UP Election 2022: पीएम मोदी का ‘परिवार के दर्द’ को लेकर अखिलेश पर पलटवार, मुस्लिम महिलाओं पर मांगा जवाब

उत्तर प्रदेश में चौथे चरण की वोटिंग के बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बुधवार को बाराबंकी में पार्टी प्रत्याशियों के लिए प्रचार करते हुए समाजवादी पार्टी और अखिलेश यादव को जमकर निशाना साधा। पीएम मोदी ने मुस्लिम महिलाओं को तीन तलाक से मुक्ति नहीं दिलाने को लेकर करारा हमला किया और पूछा कि यदि वह खुद को परिवार का दर्द समझने वाला बताते हैं तो मुस्लिम बहन-बेटियों का दर्द क्यों नहीं दिखा। पीएम मोदी की ओर से घोर परिवारवादी कहे जाने के बाद अखिलेश यादव ने खुद को परिवार का दर्द समझने वाला बताया था।

पीएम मोदी ने कहा, ”तीन तलाक जैसी कुप्रथाओं ने कैसे मुस्लिम बेटियों को, पूरे परिवार को असुरक्षित कर दिया था यह सब जानते हैं। जो दावा करते हैं कि वह परिवार वाले हैं, उसमें बुरा क्या है, हम परिवार वाले हैं इसलिए परिवार का दुख जानते हैं, घोर परिवारवादियों से मैं पूछता हूं कि आप यदि परिवार का इतना गुणगान करते हो तो आपको मेरी मुस्लिम बहन-बेटियों के दर्द की चिंता क्यों नहीं हुई। मेरी मुस्लिम बेटियों बहनों को छोटे-छोटे बच्चे को लेकर पिता के घर लौटना पड़ता था, तब तुम्हें परिवार का दर्द क्यों समझ नहीं आया?

पीएम मोदी ने पूरे हिन्दुस्तान और यूपी को अपना परिवार बताते हुए कहा, ”हम परिवार वाले नहीं है, लेकिन हर परिवार के दर्द को जानते हैं। क्योंकि पूरा हिन्दुस्तान मेरा परिवार है, पूरा यूपी मेरा परिवार है। आप सब मेरे परिवार वाले हैं। इन लोगों ने वोट बैंक के लिए मुस्लिम बेटियों की पहाड़ जैसी दिक्कतों को देखने की फुर्सत नहीं थी। मेरी सरकार ने मुस्लिम बेटियों को तीन तलाक के दुष्चक्र से मुक्त किया है।

पीएम मोदी ने कहा कि कुछ लोग बहुत बड़ी गलती करते हैं, कहते हैं कि यह सिर्फ बेटियों को सुरक्षित करता है, ऐसा नहीं है। यह मुस्लिम बेटियों के पिता, भाई और माता की भी सुरक्षा करता है। बड़ी उम्मीद से बेटी को ससुराल भेजते हैं मां-बाप। लेकिन वही बेटी जब 5-10 साल में तीन तलाक की वजह से घर लौटती है तो आप कल्पना कर सकते हैं कि उनके परिवार को कितना दर्द होता है। पीएम मोदी ने अखिलेश पर निशाना साधते हुए पूछा, ”तुम परिवार वाले हो तुम्हें तो यह दर्द दिखना चाहिए था, नहीं दिखा क्योंकि तुम्हें सिर्फ बैलेट बॉक्स दिखता है, किसी का जीवन नहीं।