बडोदरा की वो मस्जिद जिसे कोविड अस्पताल बनाया गया

AHMADABAD MASJID CHANGE IN COVID HOSPITAL 1 200421

बडोदरा, गुजरात

पूरी दुनिया में चारों तरफ कोरोना ने हाहाकार मचा रखा है और लोग करोना की इस भयावह स्थिति से बुरी तरीके से जूझ रहे हैं। देश में कोरोना की दूसरी लहर के बाद एक तरफ जहां अस्पतालों में बेड नहीं है वहीं कोरोना मरीजों को पर्याप्त रूप से इलाज भी नहीं मिल रहा है। ऐसे हालात में गुजरात के वडोदरा में मुसलमानों ने वो काम किया जिसकी तारीफ पूरी दुनिया में हो रही है। दरअसल यहां को मुसलमानों ने जहांगीरपुरा मस्जिद को कोविड सेंटर में तब्दील कर दिया है। अब यहां कोविड़ मरीजों का इलाज चल रहा है।

कोरोना का प्रकोप देश में तो बर्बादी का मंजर दिखाई ही रहा है। साथ ही साथ गुजरात में भी स्थिति हर बीतते दिन के साथ बिगड़ती दिख रही है। रोजाना 7 हजार से ज्यादा मामले दर्ज किए जा रहे हैं और मृतकों का आंकड़ा भी डरा रहा है। इस बीच कई धार्मिक स्थल मदद को आगे आ रहे हैं और मुश्किल समय में इस बात पर जोर दे रहे हैं कि मानवता से बड़ा कोई धर्म नहीं होता। इसी कड़ी में अब वडोदरा में जहांगीरपुरा मस्जिद को एक कोविड सेंटर में तब्दील कर दिया गया है।

जहांगीरपुरा मस्जिद के संचालक ने अस्पतालों में बेड की कमी देखते हुए यह फैसला लिया। उन्होंने कहा कि मस्जिद में लोगों की जान बचाने से ज्यादा बेहतर कोई इबादत नहीं हो सकती। जहांगीरपुरा मस्जिद के संचालक इरफान शेख ने कहा कि यह संकट का समय है। इस मुश्किल दौर से निपटने के लिए सरकार को घेरने के बजाय सभी को मदद के लिए आगे आना चाहिए। उन्होंने कहा कि कोरोना के चलते अभी मस्जिद में नमाज नहीं पढ़ी जा रही है। दूसरी ओर कोरोना संक्रमितों की संख्या बढ़ने के चलते अस्पताल में बेड की कमी आ गई है। ऐसे में हमने इस मस्जिद को अभी कोविड सेंटर में तब्दील कर दिया है। फिलहाल, इसमें 50 बेड ऑक्सीजन के साथ लगाए गए हैं।