जहांगीरपुरी हिंसा: हिंदू-मुस्लिम निवासियों ने निकाली तिरंगा यात्रा, घरों पर भी फहराए गए झंडे

दिल्ली के जहांगीरपुरी के दंगा प्रभावित इलाके के हिंदू और मुस्लिम निवासियों ने रविवार को तिरंगा यात्रा निकाली। यात्रा पर लोगों ने फूलों की पंखुड़ियां चढ़ाते हुए नजर आए इसके साथ-साथ इलाके के सभी घरों पर तिरंगा फहरत नजर आया। शाम छह बजे शुरू हुई तिरंगा यात्रा का मकसद शांति का संदेश देना है।

इंडिया टुडे की रिपोर्ट के मुताबिक जहांगीरपुरी इलाके के सी, बी और डी ब्लॉक में भी सांप्रदायिक सौहार्द का संदेश देदे नजर आए। तिरंगा यात्रा के लिए इलाके में भारी पुलिस बल तैनात था। पुलिस ने बताया कि दोनों समुदायों के 50-50 लोग यात्रा में हिस्सा ले रहे हैं। उत्तर-पश्चिम दिल्ली की पुलिस उपायुक्त उषा रंगानानी ने कहा कि जुलूस के लिए सुरक्षा के पर्याप्त इंतजाम किए गए हैं। यात्रा का उद्देश्य शांति का बढ़ावा देना और सामान्य स्थिति बहाल करना है।

बता दें कि 16 अप्रैल को हनुमान जयंती के जुलूस के दौरान दिल्ली के जहांगीरपुरी में दो समूहों के बीच सांप्रदायिक झड़प हो गई थी, जिसमें नौ लोग घायल हो गए। दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच ने हिंसा की जांच शुरू कर दी है और मामले में अब तक 25 लोगों और दो नाबालिगों को गिरफ्तार किया गया है।

दिल्ली पुलिस कमिश्नर राकेश अस्थाना ने शुक्रवार को खुद जहांगीरपुरी हिंसा के मास्टरमाइंड अंसार से पूछताछ करने के बाद क्राइम ब्रांच के अधिकारियों से इस मामले में विस्तृत जांच रिपोर्ट तैयार करने को कहा है। जहांगीरपुरी निवासी अंसार फिलहाल पुलिस रिमांड में है। सूत्रों के मुताबिक, दिल्ली पुलिस क्राइम ब्रांच और स्थानीय पुलिस जहांगीरपुरी हिंसा के आरोपी अंसार की कॉल डिटेल और वॉट्सऐप चैट की जांच कर रही है।