कांग्रेस प्रत्याशी फराह नईम का इस्तीफा, जिलाध्यक्ष पर लगाए गंभीर आरोप, बोली-नहीं लड़ूंगी चुनाव

उत्तर प्रदेश

यूपी विधानसभा चुनाव में कांग्रेस की सूची जारी होने के बाद जिलाध्यक्ष पर आरोप लगाते हुए प्रत्याशी फराह नईम ने इस्तीफा दे दिया है। प्रत्याशी ने जिलाध्यक्ष पर गंभीर आरोप लगा शेखूपुर विधानसभा सीट से टिकट वापस कर दिया। उन्हेंने प्रदेश अध्यक्ष एवं प्रियंका गांधी को पत्र भेजकर आरोप लगाया, कांग्रेस में अब महिलाओं का शोषण हो रहा है। फराह नईम का आरोप है कि पार्टी जिलाध्यक्ष ओंकार सिंह ने कहा कि मुस्लिम महिलाओं को टिकट नहीं मिलना चाहिए और मैं एक चरित्रहीन महिला हूं। फराह नईम ने कहा, जिला इकाई में महिलाएं सुरक्षित नहीं हैं। जिलाध्यक्ष से सुरक्षा पर डर है ऐसे में वे चुनाव कैसे लड़ सकती हैं।

 

गुरुवार शेखूपुर विधानसभा से कांग्रेस की घोषित प्रत्याशी फराह नईम ने त्यागपत्र दे कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष व प्रियंका गांधी को पत्र लिखा। उन्होंने जिलाध्यक्ष पर कार्रवाई करने की मांग की। कहा कि वह 14 वर्ष पुरानी कांग्रेस कार्यकर्ता हैं और पार्टी की पीपीसीई सदस्य हैं। कांग्रेस के लिये लंबे समय तक काम किया है इसलिये उन्हें कांग्रेस से टिकट मिला था लेकिन कांग्रेस जिलाध्यक्ष उन्हें चुनाव लड़ने नहीं देना चाहते हैं।

कांग्रेस जिलाध्यक्ष ओमकार सिंह का कहना है, कांग्रेस में तमाम महिला पदाधिकारी हैं, दो महिला प्रत्याशी अन्य भी हैं। उनकी वीडियो सुनें कभी कोई भी महिला ऐसे आरोप नहीं लगाती हैं। फराह नईम जिस तरह से आरोप लगा रही हैं उसके कोई रिकार्ड तो दिखाएं। ऐसे बेवजह किसी पर आरोप लगाना ठीक थोड़ी है। हमने अगर किसी से कुछ कहा है तो रिकार्ड दिखाएं, वह तो बेवजह बदनाम करने की कोशिश कर रही हैं।

फराह नईम ने बताया, शेखूपुर विधानसभा से चुनाव जनता के फैसले पर लड़ रही थी। लंबे समय से कांग्रेस के लिये काम कर रही हूं। इसलिये कांग्रेस ने टिकट दिया। मगर जिलाध्यक्ष ओमकार सिंह बगावत कर रहे हैं। मुझे मुस्लिम महिला कहते हुये अब्दशब्द भी कहे जाते हैं। कहते हैं, मुस्लिम महिला को टिकट नहीं मिलने देंगे। टिकट वापस कर दिया और पार्टी से इस्तीफा दे दिया।