उलेमा कौसिल की कोशिश, गायब ज़ुबैर को खोजने में मदद की

पीलीभीत, यूपी

राष्ट्रीय उलेमा कौंसिल आम लोगों के मुद्दे पर हमेशा संघर्ष करती रहती है। पार्टी पुलिस के मामले में आगे आकर मुस्लिमों को मदद करती है। ऐसी ही एक घटना पीलीभीत की है जहां एक मुस्लिम नौजवान घर से निकला लेकिन रास्ते से गायब हो गया। लड़के के घर वालों ने उलेमा कौंसिल से मदद मांगी। पार्टी के नेताओं ने आलाधिकारियों बात की और पुलिस पर दबाव बनाया। आखिरकार पुलिस ने इस नौजवान को खोज निकाला।

पीलीभीत ज़िले के ग्यासपुर के रहने वाले असलम के बेटे मोहम्मद ज़ुबैर घर से बरेली जाने के लिए निकले। मोहम्मद ज़ुबैर IAS की कोचिंग करते हैं। 22 मार्च को बरेली के लिए उन्होंने बस पकड़ी लेकिन रास्ते से ही गायब हो गए। घर वालों को जब ज़बैर के बरेली न पहुंचने की खबर मिली तो वह परेशान हो गए। दरअसल नजीब का मामला सबके सामने हैं। परेशान हाल घर वालों ने राष्ट्रीय उलेमा कौंसिल के नेताओं से संपर्क किया और मदद की बात कहीं।

राष्ट्रीय उलेमा कौंसिल के नातों ने स्थानीय अधिकारियों से लेकर बड़े अधिकारियों तक बात पहुंचाई। कौंसिल की तरफ से पैरवी होते ही बरेली और पीलीभीत का पुलिस प्रशासन हरकत में आया और आज ज़ुबैर को सही सलामत पुलिस ने खोज लिया और उनके घर वालों के हवाले किया। उलेमा कौंसिल के राष्ट्रीय प्रवक्ता ने बताया कि कौंसिल आम लोगों की मदद के लिए हर मुमकिन कोशिश करती रहती है।