मंदसौर में मुस्लिम महिलाओं की पिटाई के विरोध में उलेमा कौंसिल का ज्ञापन

मंदसौर, मध्य प्रदेश

राष्ट्रीय उलेमा कौंसिल ने मंदसौर के रेलवे स्टाशन पर दो मुस्लिम महिलाओं की पिटाई पर विरोध दर्ज कराया है। पार्टी की मध्य प्रदेश की मंदसौर ज़िला यूनिट ने इस संबंध में सीएम शिवराज सिंह चौहान के प्रषित एक ज्ञापन दिया है। ये ज्ञापन ज़िलाधिकारी के माध्यम से सीएम को भेजा गया है। इसमें मंदसौर घटना में शामिल लोगों के खिलाफ कार्रवाई की मांग की गई है।

उलेमा कौंसिल की मंदसौर यूनिट ने सीएम को संबोधित ज्ञापन में 4 सूत्रीय मांग रखी है। उलेमा कौंसिल ने ज्ञापन में कहा है कि पीड़ित महिलाओं के विरुद्ध दर्ज केस वापस लिया जाये और उन्हें मोआवज़ा दिया जाये। हिंसा में शामिल सभी दोषी व्यक्तियों को तत्काल चिन्हित कर उनके खिलाफ कड़ी धाराओं मे मुक़दमा दर्ज किया जाए और उन्हें गिरफ्तार किया जाये। मौके पर मौजूद मूकदर्शक पुलिस के खिलाफ खिलाफ कार्रवाई की जाए और उन्हें नौकरी से बर्खास्त किया जाए। कानून को अपने हाथ मे लेने वाले ऐसे तमाम तथाकथित गौ रक्षा संगठनो को तत्काल प्रभाव से प्रतिबंधित किया जाये।

मालूम हो कि रतलाम जीआरपी थाने के अंतर्गत गौरक्षक दल के सदस्यों के विरुद्ध मुक़दमा दर्ज हुआ है। अबी तक उनपर कोई कार्रवाई नहीं है। इस मुद्दे पर संसद में भी खूब हंगामा हुआ था।