उलेमा कौंसिल ने रोज़ा रखने वाले बंदियों को सुविधा देने की मांग की

अलीगढ़, यूपी

राष्ट्रीय उलेमा कौंसिल की अलीगढ़ यूनिट ने एक ज्ञापन ज़िलाधिकारी सौंपा। इस ज्ञापन में जेलों में बंद ऐसे मुस्लिम बंदियों को सुविधाएं देने की मांग की गई है जो रोज़ा रखना चाहते हो। ज्ञापन में कहा गया है कि सहरी, अफ्तार और नमाज़ का इंतज़ाम किया जाए। इस बात की जानकारी मीडिया प्रभारी मुदस्सिर एजाज़ आरिफ ने दी।

ज्ञापन में मांग की गई है कि जो बंदी रोज़ा रखना चाहते हैं उनकी मेडिकल सुविधा उपलब्ध हो। सहरी और अफ्तार का माकूल इंतज़ाम किया जाए। इसके साथ की नमाज़ और तरावीह पढ़ने के लिए जगह और वज़ू के लिए साफ पानी उपलब्ध कराया जाए। रमज़ान महीने में मुस्लिम बंदियों से काम न लिया जाए। गर्मी को देखते हुए जेल में बिजली की व्यवस्था सही की जाए।

ज़िलाधिकारी ने उलेमा कौंसिल के प्रतिनिधिमंडल को आश्वस्त किया कि वह सभी मांगों पर गंभीरतापूर्वक विचार करेंगे। इस प्रतिनिधिमंडल में ज़िलाध्यक्ष जमाल मोहम्मद ख़ान, उपाध्यक्ष इमरान सिद्दीकी, नगर अध्यक्ष इमरान कुरैशी, महासचिव कौकब अली, साकिब खान, बालकिशन, मोहम्मद आसिफ, सुरेंद्र सिंह, वसीम अहमद समेत कई कार्यकर्ता मौजूद थे।