बेकसूर मुस्लिमों की गिरफ्तारी, विरोध में पीस पार्टी का जबर्दस्त प्रदर्शन

लखनऊ, यूपी

पीस पार्टी ने यूपी में आज सपा की अखिलेश यादव सरकार के खिलाफ ज़िला मुख्यालयों पर जमकर धरना-प्रदर्शन किया। पीस पार्टी ने धरना-प्रदर्शन के बाद डीएम को ज्ञापन सौंपा। इस ज्ञापन में गोकशी और गो-तस्करी के मामले में फर्जी तरीके से बेकसूर मुसलमानों को फंसाए जाने का विरोध किया गया।

पहले से तय कार्यक्रम के अनुसार पीस पार्टी ने राज्य के सभी ज़िला मुख्यालयों पर प्रदर्शन किया। पीस पार्टी के प्रदेश पदाधिकारियों और ज़िला यूनिट के पदाधिकारियों ने प्रदर्शन का नेतृत्व किया। पीस पार्टी में राज्य की अखिलेश सरकार के उस अध्यादेश का विरोध किया है जिसमें गोकशी औक गो-तस्करी के मामले में गुंडा एक्ट और गैंगेस्टर के तहत कार्रवाई की बात कही गई है। पीस पार्टी का कहना है कि गोकशी और गो-तस्करी में अब तक के सारे मामले झूठे पाए गए हैं, ऐसे में ये कार्रवाई सिर्फ मुसलमानों को परेशान करने और उन्हें जेल भेजने की साजिश है।

बलरामपुर ज़िले में प्रदर्शन का नेतृत्व पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष डॉ अब्दुल मन्नान ने किया। पीएनएस से बात करते हुए डॉ अब्दुल मन्नान ने कहा कि उत्तर प्रदेश में अखिलेश सरकार के राज्य में मुसलमानों पर जमकर जुल्म हो रहा है। गोकशी और गो-तस्करी के नाम पर बेकसूर मुसलमानों को फंसाया जा रहा हैं और उन्हें जेल भेजा जा रहा है। अखिलेश सरकार ने अध्यादेश के ज़रिये गोकशी और गो-तस्करी करने वालों पर गुंडा एक्ट और गैंगेस्टर तहत कार्रवाई कर रही है। जबकि दर्ज मामले में अब तक सारे मामले झूठे पाए गए हैं।

IMG-20151130-WA0004

डॉ मन्नान ने पीएनएस से कहा कि पुलिस बेकसूर मुसलमानों को डरा-धमका कर पैसे की वसूली कर रही है, दूसरी तरफ गरीब मुसलमानों को एक संगठन के इशारे पर जेल भेजा जा रहा है। पीस पार्टी सरकार की तानाशाही रवैये पर चुप नहीं बैठेगी। हम सरकार के खिलाफ सड़क से लेकर विधान सभा तक मुसलमानों की आवाज़ उठाएंगे। प्रदर्शन में प्रदेश अध्यक्ष डॉ मन्नान के साथ ज़िलाध्यक्ष साहबान अली समेत सैकड़ों कार्यकर्ता मौजूद थे।

बहराइच में पीस पार्टी के मंडल अध्यक्ष कादिर आज़ाद के नेतृत्व में जबरदस्त प्रदर्शन हुआ। यहां प्रदर्शन के लिए इकठ्ठा हुए कार्यकर्ताओं को कादिर आज़ाद ने संबोधित किया। यहां पार्टी के कार्यकर्ताओं ने डीएम से मिलकर राज्य के काले कानून के खिलाफ ज्ञापन सौंपा। इस मौके पर पार्टी के ज़िलाध्यक्ष शकील भी मौजूद रहे।

गोरखपुर में ज़िलाध्यक्ष इब्तिदा हुसैन के नेतृत्व में प्रदर्शन
गोरखपुर में ज़िलाध्यक्ष इब्तिदा हुसैन के नेतृत्व में प्रदर्शन

गोरखपुर में ज़िला मुख्यालय पर पीस पार्टी के कार्यकर्ता इकठ्टा हुए। यहां प्रदर्शन का नेतृत्व ज़िलाध्यक्ष इब्तिदा हुसैन ने किया। उन्होंने कहा कि पीस पार्टी हमेशा गरीबों की लड़ाई लड़ती रही है। यहां डीएम को ज्ञापन सौंपा गया। देवरिया ज़िले में भी धरना प्रदर्शन हुआ। यहां पार्टी के ज़िलाध्यक्ष नसीम लारी ने प्रदर्शन का नेतृत्व किया। यहां भी जिलें के डीएम को ज्ञापन सौंपा गया।

देवरिया में ज़िलाध्यक्ष नसीम अहमद के नेतृत्व में प्रदर्शन
देवरिया में ज़िलाध्यक्ष नसीम अहमद के नेतृत्व में प्रदर्शन

कुशीनगर में पार्टी के ज़िलाध्यक्ष अजीमुल्ला अन्सारी और मुन्ना यादव के नेतृत्व में प्रदर्शन हुआ। आज़मगढ़ में ज़िलाध्यक्ष तारिक़ आजमी ने प्रदर्शन का नेतृत्व किया। संतकबीर नगर में संतबली निषाद, संतोष साहनी मौजूद रहे जबकि मेरठ में बादल मालिक, आगरा में मेघ सिंह सोलंकी, सहारनपुर में सोनपाल, अलीगढ में सुनहरी खान ने प्रदर्शन का नेतृत्व किया और डीएम को ज्ञापन दिया। इलाहाबाद में ज़िलाध्यक्ष अहमद हुसैन, बाराबंकी में मसूद रियाज़, फैज़ाबाद में अजीमुद्द्दीन, मुज़फ्फरनगर में इरफान अंसारी, मुरादाबाद में नादिर मंसूरी, संभल में असलम, नोएडा में आज़ाद मालिक, अमरोहा में रज़ीउद्दीन के नेतृत्व में धरना-प्रर्दशन हुआ।

इसके अलावा भी कई शहरों में पीस पार्टी के कार्यकर्ताओं ने धरना प्रदर्शन करके डीएम को ज्ञापन दिया।