बीजेपी की राह पर सपा, किसी मुसलमान को टिकट नहीं

लखनऊ, यूपी

यूपी में मुसलमानों के बल पर सत्ता हासिल करने वाली समाजवादी पार्टी ने राज्य सभा की सीटों के लिए उम्मीदवारों के नाम का एलान कर दिया है। समाजवादी पार्टी ने एक भी मुस्लिम उम्मीदवार को टिकट नहीं दिया है। वहीं विधान परिषद की 8 सीटों में सिर्फ एक टिकट बुक्कल नवाब को दिया है। सवाल ये है कि बुक्कल नवाब से पार्टी को कितना फायदा होगा।

सपाजवादी पार्टी के लखनऊ कार्यालय में कैबिनेट मंत्री अरविंद सिंह गोप, एमएलसी आंशू मलिक, पार्टी के नेता सीपी राय की मौजूदगी में कैबिनेट मंत्री शिवपाल सिंह यादव ने राज्य सभा और विधान परिषद के उम्मीदवारों को नाम जारी किए। तमाम विवादों के बाद भी अमर सिंह राज्य सभा का टिकट पाने में कामयाब हो गए।

राज्य सभा के लिए हाल में ही पार्टी में शामिल किए गए बेनी प्रसाद वर्मा, अमर सिंह, बिल्डर संजय सेठ, सुखराम सिंह यादव, रेवती रमण सिंह, विशम्बर प्रसाद निषाद और अरविंद प्रताप सिंह का नाम शामिल है। वहीं एमएलसी के लिए बलराम यादव, शतरुद्र प्रकाश, जसवंत सिंह, बुक्कल नवाब, राम सुंदर दास, जगजीवन राम, कमलेश पाठक और रणविजय सिंह को टिकट मिला है।

ऐसा नहीं है कि मुस्लिम उम्मीदवारों की दावेदारी नहीं थी। पार्टी महासचिव मो अरशद खांन, सरफराज़ खान, नवाज़ देवबंदी, अनीस मंसूरी का नाम भी उम्मीदवारों की लिस्ट में शामिल था। दरअसल इन लोगों की पार्टी के लिए वफादारी कोई काम नहीं आई। पार्टी की लिस्ट देख कर लगता है कि जैसे पार्टी ने इस चुनाव में मुसलमानों से वोट न लेने का अहद कर लिया है।

पार्टी ने एक तरफ तो अमर सिंह जो अभी तक पार्टी के सदस्य तक नहीं है को टिकट दे दिया। वहीं दो दिन पहले तक मुलायम सिंह को हर बात पर घेरने वाले बेनी प्रसाद को भी पार्टी में शामिल होने का इनाम मिला।

प्रेस कांफ्रेंस में सवालों का जवाब देते हुए कैबिनेट मंत्री शिवपाल सिंह यादव ने कहा कि अमर सिंह नेता जी मुलायम सिंह यादव के दिल में रहते हैं, यही वजह है कि पार्टी ने उन्हें उम्मीदवार बनाया है। उन्होंने अमर सिंह को लेकर किसी भी प्रकार के विवाद से इंकार किया। आज सुबह ही पार्टी के संसदीय बोर्ड की मीटिंग हुई थी इसमें अमर सिंह के नाम को लेकर पार्टी महासचिव राम गोपाल यादव और कैबिनेट मंत्री आज़म खांन के विरोध करने की खबरें आई थी। बाद में टिकट बंटवारें को लेकर पार्टी अध्यक्ष मुलायम सिंह यादव को अधिकार दे दिया गया था।