मुलायम की गाज़ीपुर रैली: अंसारी परिवार की पहली अग्नि परीक्षा

गाजीपुर/मऊ, यूपी

सपा मुखिया मुलायम सिंह यादव की 23 नवंबर को रैली प्रस्‍तावित है। ये रैली अंसारी परिवार के लिए एक तरफ तो प्रतिष्‍ठा का प्रश्‍न है तो दूसरी तरफ उनकी अगिन परीक्षा। समाजवादी पार्टी की ताकत में पूर्वांचल में सबसे कमज़ोर है। यही वजह है कि पार्टी ने कौमी एकता दल का विलय दोबारा पार्टी में किया। पार्टी को इससे कितनी ताकत मिलती है ये रैली में जुटने वाली भीड़ से अंदाज़ा लग जाएगा

असारी परिवार अपनी खोई प्रतिष्‍ठा को प्राप्‍त करने के लिए भी जद्दोजहद कर रहा है। अंसारी परिवार ने रैली को सफल बनाने के लिए मोहम्‍मदाबाद से मऊ तक एड़ी से चोटी तक का ज़ोर लगा दिया है। वो हर हालत में इन दोनों जगहों से मुलायम सिंह की रैली में कार्यकर्ताओं का हुजूम भेजना चाहते हैं।

अंसारी परिवार के गहरे असर वाले मुहम्‍मदाबाद ब्‍लाक, रेवतीपुर ब्‍लाक, भांवरकोल ब्‍लाक में लगातार जनसम्‍पर्क किया जा रहा है। इसके लिए विधायक सिबगतुल्‍लाह अंसारी और उनके बेटे युवा सपा नेता मन्‍नू अंसारी लगातार लोगों से जनसंपर्क कर रहे हैं। दोनों नेता बैठक कर और गांव-गांव जाकर कार्यकर्ताओं से मिलकर रैली में चलने की अपील कर रहे हैं। पिछले एक हफ्ते में मुहम्‍मदाबाद ब्‍लाक, रेवतीपुर ब्‍लाक व भावरकोल ब्‍लाक मुख्‍यालय पर ग्राम प्रधानों व बीडीसी की बैठक कर उनसे रैली में पहुंचने की अपील की

विधायक सिबगतुल्‍लाह अंसारी ने पीएनएस के स्थानीय संवाददाता को बताया कि मुहम्‍मदाबाद क्षेत्र से हजारों की भीड़ रैली में जायेगी। इसके लिए बड़े संख्‍या में बस, चार पहिया वाहन और पास दो पहिया वाहन लगाए गए हैं। ये सभी वाहन कार्यक्रम स्‍थल आरटीआई मैदान पहंचेंगे। उन्‍हो.ने कहा कि मुहम्‍मदाबाद के जनसैलाब से भाजपाईयों की नींद उड़ जायेगी।

विधायक मुख्तार अंसारी के क्षेत्र मऊ से कार्यक्रम स्‍थल पर कार्यकर्ताओं को ले जाने और ले आने का जिम्‍मा विधायक बेटे युवा सपा नेता अब्‍बास अंसारी को सौंपा गया है। अब्‍बास अंसारी पिछले एक हफ्ते से दर्जनों गांवों का दौरा कर लोगों से 23 नवंबर को गाजीपुर चलने की अपील की उन्‍होंने बताया कि सपा की रैली में मऊ से जनसैलाब उमड़ेगा। रैली में बीजेपी की रैली से कई गुना ज़्यादा बीढ़ आएगी।

पार्टी की तरफ से जनसम्‍पर्क के दौरान डा. रामानंद यादव, उमाकांत यादव, सुब्‍बा यादव, जनार्दन विश्‍वकर्मा, रमायण यादव, छोटू चौहान, श्रीनाथ विश्‍वकर्मा, प्रभुनाथ चौहान, बद्रीराम यादव, प्रेम शर्मा, डब्‍लू सिंह, जावेद खान समेत कई लोग शामिल हैं।