आज़म ख़ां से दुश्मनी: मौलाना कल्बे जव्वाद का BSP को समर्थन

लखनऊ, यूपी

मौलाना कल्बे जव्वाद ने आज उत्तर प्रदेश विधान सभा चुनाव में बीएसपी को समर्थन देने का एलान कर दिया। मौलाना जव्वाद ने कहा कि उन्होंने पहले कभी चुनाव में किसी पार्टी के लिये समर्थन की घोषणा नहीं की, लेकिन पिछले पांच साल के दौरान उत्तर प्रदेश में जिस तरह मुसलमानों पर जुल्म-ज़्यादती हुई है उसे देखते हुए तमाम उलेमा ने ये तय किया है कि अब अखिलेश सरकार की दोबारा सत्ता में वापसी नहीं होनी चाहिये।

ऑल इण्डिया मुस्लिम पर्सनल ला बोर्ड के सदस्य ने कहा कि उन्होंने एक सर्वे में यह पाया है कि एसपी-कांग्रेस गठबंधन को हराने में सिर्फ बीएसपी ही है और मौजूदा हालात में बीएसपी ही मुसलमानों के लिये सबसे बेहतर पार्टी है। इसलिये मुस्लिम कौम समेत तमाम जनता से अपील है कि वह चुनाव में बीएसपी को वोट दे। मौलाना जव्वाद ने कहा कि बीएसपी मुखिया मायावती से उनकी मुलाकात हुई। इस दौरान मायावती ने बीएसपी की सरकार बनने पर मुसलमानों को उनका हक दिलाने समेत उनके भले के तमाम वादे किये।

मालूम हो कि शिया वक्फ बोर्ड को लेकर आज़म खान और मौलाना कल्बे जव्वाद के बीच काफी विवाद हुआ था। इसको लेकर मौलाना कल्बे जव्वाद ने कई बार आंदोलन भी किया। एक आंदोलन में पुलिस फायरिंग में एक शख्स की मौत हो गई थी। इस झगड़े को खत्म करने के लिए कई बार प्रयास किए गए थे लेकिन कामयाबी नहीं मिली थी। ऐसा लगता है कि अब मौलाना कल्बे जव्वाद सपा सरकार से बदला लेना चाह रहे हैं।