सऊदी की यमन के लोगों के लिए सबसे बड़ी मदद

रियाद, सऊदी अरब

सऊदी अरब के “किंग सलमान सेंटर फॉर रिलीफ प्यूमेनेटेरियन एड” ने यमन को बड़ी मदद का एलान किया है। सऊदी अरब ने यमन को करीब 40 अरब रूपये की मदद देने का एलान किया है। सऊदी अरब की मीडिया के मुताबिक ये रकम यमन की जंग से जूझ रहे लोगों के लिए है। “किंग सलमान सेंटर फॉर रिलीफ प्यूमेनेटेरियन एड” के प्रमुख डॉ अब्दुल्लाह अल-राबीह ने कहा कि सऊदी अरब सरकार अन्तर्राष्ट्रीय एजेंसियों के साथ मिलकर यमन के साथ दूसरे मुल्कों जैसे डिबूटी, इथोपिया में भी मदद करेगी।

“किंग सलमान सेंटर फॉर रिलीफ प्यूमेनेटेरियन एड” के प्रमुख अल राबीह ने बताया कि सऊदी दुनिया के टॉप 10 देशों में शुमार है जो सबसे ज़्यादा मानवीय आधार पर मदद करता है। अली-राबीह ने बताया कि पिछले चार दशक में सऊदी अरब ने दुनिया के 90 देशों को 115 बिलियन डॉलर की मदद की है। अल-राबीह ने बताया कि किंग सलमान सेंटर यमन के प्रभावित लोगों के लिए दो नए प्रोजेक्ट शुरु कर रहा है। इसमें एक साफ पीने के पानी की सप्लाई और दूसरा कुपोषण के शिकार बच्चों और माताओं के लिए भोजन की व्यवस्था करना है। ये प्रोजेक्ट यमन में 15 जगहों पर चलाए जाएंगे।

अल-राबीह ने बताया कि यमन में कुल 123 प्रोजेक्ट काम कर रहे हैं और इनमें दुनियाभर की 81 एजेंसियां शामिल हैं। उन्होंने बताया कि भोजन, सुरक्षा और शेल्टर के लिए 44 प्रोजेक्ट काम कर रहे हैं। 238 मिलियन डॉलर के इस प्रोजेक्ट से 2 करोड़ लोगों का फायदा पहुंचाया जा रहा है। इन प्रोजेक्ट में दुनिया भर की 24 एजेंसियां शामिल हैं।

अल-राबीह ने बताया कि शिक्षा, परिवार की सुरक्षा और त्वरित फायदा पहुंचाने के लिए 16 प्रोजेक्ट चलाए जा रहे हैं। इनकी कास्ट करीब 78 मिलियन डॉलर है। उन्होंने बताया कि स्वास्थ्य, पोषण और साफ सफाई के लिए 53 प्रोजेक्ट चलाए जा रहे हैं। इनकी कास्ट करीब 211 मिलियन डॉलर है। इन प्रोजेक्ट से करीब 70 लाख लोगों का फायदा मिल रहा है।

सऊदी अरब से भारत वापस आने वालों की लंबी लाइन