ज्ञानवापी प्रकरण : मुस्लिम पक्ष पर केस की अर्जी पर सुनवाई आज, हिन्दुओं की भावनाएं आहत करने का आरोप

विशेष मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट सर्वोत्तमा नागेश वर्मा की अदालत में सोमवार को ज्ञानवापी मस्जिद के वुजूखाने में हाथ-पैर धोने और हिंदुओं की आस्था के अपमानित करने के मामले की सुनवाई होगी। अधिवक्ता राजा आनंद ज्योति सिंह ने कोर्ट में अर्जी देकर अंजुमन इंतजमिया मसाजिद कमेटी के संयुक्त सचिव एसएम यासीन और 1000 अज्ञात के खिलाफ मुकदमा दर्ज करने की गुहार लगाई है।

राजा आनंद सिंह ज्योति ने कोर्ट में सीआरपीसी की धारा 156 (3) के तहत आवेदन दिया। कहा है कि मुस्लिम पक्ष ने सैकड़ों वर्षों से यह जानते हुए कि यहां शिवलिंग मौजूद है, जानबूझकर वुजूखाने में हाथ पैर धोकर हिंदुओं की भावनाओं को आहत किया है। यह भी कहा कि वह हमारे आराध्य भगवान शिव का स्थान है। यह कृत्य हिंदू समाज के लिए अपमानजनक है और अपराध के श्रेणी में आता है। अदालत केस की मेरिट पर सोमवार को सुनवाई करेगी।

अविमुक्तेश्वरानंद के प्रार्थना पत्र पर भी आज सुनवाई  
प्रभारी जिला जज त्रिभुवन की अदालत में सोमवार को ज्ञानवापी प्रकरण में स्वामी अविमुक्तेश्वरानंद सरस्वती की ओर से दाखिल अर्जेन्ट प्रार्थनापत्र पर सुनवाई होगी। अविमुक्तेश्वरानंद ने शनिवार को परिसर में मिले शिवलिंग जैसी आकृति के पूजा-भोग करने की अर्जी पर सुनवाई करने गुहार लगाई थी। उस दिन अदालत ने अर्जी पर मुंसरिम की आख्या न होने पर सुनवाई सोमवार तक टाल दी थी।