रोकर अपना गुनाह छिपाते हैं मोदी: नसीमुद्दीन सिद्दीकी

संतकबीरनगर, यूपी

बीएसपी महासचिव नसीमुद्दीन सिद्दीकी ने पीएम पर बड़ा हमला किया। उन्होंने नरेन्द्र मोदी को रोने वाला प्रधानमंत्री बताया। सीएम अखिलेश को निशाने पर रखते हुए उन्होंने कहा कि प्रदेश में हुए दंगे उनका सबसे बड़ा काम है, तो दूसरी तरफ उन्होंने कांग्रेस को डूबता जहाज बताया। जनसभा के दौरान उन्होंने मुसलमानों के साथ हुई ज्यादतियों की खूब चर्चा की।

बीएसपी के राष्ट्रीय महासचिव नसीमुद्दीन सिद्दीकी ने शुक्रवार को ज़िले के महुली में धनघटा के बीएसपी प्रत्याशी नीलमणि के समर्थन में जनसभा को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि सपा-कांग्रेस गठबंधन का प्रदेश में कहीं नामलेवा नहीं रह गया है। प्रदेश में बीएसपी की लहर चल रही है। उन्होंने कहा प्रदेश में बसपा की सरकार बनी तो मोदी दोबारा गुजरात भाग जाएंगे। उन्होंने पीएम मोदी पर तंज कसते हुए कहा कि वे पहले धमकी देते हैं, फिर सीना पीटते हैं। उसके बाद ताली बजाते हैं। फिर भी बात नहीं बनती तो रोने लगते हैं। वह रोकर अपना गुनाह छिपा लेते हैं।

नसीमुद्दीन ने बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह को सबसे बड़ा आतंकवादी बताया। उन्होंने कहा कि उनके खिलाफ सीबीआई जांच कर रही थी। सरकार बनने के बाद सारे गुनाह माफ करवा लिए। अमित शाह अल्पसंख्यकों के तलाक के बारे में सोचना छोड़ दें। मोदी ने पहले ही कहा है उन्होंने परिवार छोड़ दिया है। अब अमित शाह मोदी के परिवार का तलाक सेटल कराएं।

बीएसपी महासचिव सिद्दीकी ने कहा कि प्रदेश और केन्द्र सरकारों ने जो वायदे किए वे अधूरे रह गए। एक कालाधन लाकर सभी के खातों में लाखों दे रहा था। लेकिन किसी को एक पैसा नहीं मिला। उलटे बिना तैयारी के नोटबंदी कर सभी को लाइन में खड़ा कर दिया। अपनी कमाई के पैसे के लिए चार-चार दिन लाइन में लगना पड़ा। दूसरे का काम बोल रहा है। सपा ने बीजेपी से मिल प्रदेश में दंगे करवाए। यही उनका काम है। मुस्लिम अधिकारियों की हत्या करा दी गई। उन्होंने सवाल किया कि सच्चर कमेटी की सिफारिशें कहां गईं।

नसीमुद्दीन सिद्दीकी ने कहा कि कांग्रेस डूबता जहाज है। जो सवार होगा वह डूब जाएगा। उन्होंने तंज़िया अंदाज़ में कहा कि कांग्रेस ऐसी है कि हम डूबेंगे सनम तुम्हें भी ले डूबेंगे। उन्होंने कांग्रेस के इतिहास को मुस्लिम विरोधी बताया।

इस मौके पर मुख्य जोनल कोआर्डिनेटर कल्पनाथ, मण्डल कोआर्डिनेटर संजय धुसिया, एमएलसी प्रदीप सिंह, ज़िलाध्यक्ष डिनकान प्रसाद, मण्डल अध्यक्ष जब्बार अहमद, मण्डल अध्यक्ष डा. किताबुल्लाह, मण्डल अध्यक्ष रफीक खाँ, साहू भाईचारा कमेटी के ज़िलाध्यक्ष साहू ओमप्रकाश गुप्ता समेत कई नेता मौजूद रहे।