राजस्थान कांग्रेस में विधायकों की मुखालफत! प्रजापत के बाद बोले अमीन खान- गहलोत सरकार में मुस्लिमों की अनदेखी

राजस्थान के बाड़मेर जिले से अपनी ही सरकार के खिलाफ कांग्रेसी विधायकों की मुखालफत बढती ही जा रही है। जिल के पचपदरा विधानसभा सीट से कांग्रेसी विधायक मदन प्रजापत के बाद अब शिव विधानसभा सीट से कांग्रेसी विधायक अमीन खान ने भी अपनी सरकार को कटघरे में खड़ा कर दिया है। सरकार पर मुस्लिमों की अनदेखी का आरोप लगाते हुए विधायक ने चेतावनी भरे लहजे में कहा कि इस रवैये के गंभीर परिणाम हो सकते है। विधायक ने कहा कि वो गलतफहमी में न रहें, पुराने जमाने में अनजान लोग गांवों में ज्यादा थे, लेकिन अब लोग जानकार हो गए हैं। इन गरीबों को विशेष फायदे की आशा रखते हैं।

अमीन खान बाड़मेर जिले की शिव विधानसभा सीट से विधायक हैं। अब तक आठ विधानसभा चुनाव लड़े चुके अमीन खान पांचवी बार राजस्थान विधानसभा में शिव का प्रतिनिधित्व कर रहे हैं। मंत्रिमंडल में मुस्लिम समुदाय की अनदेखी के साथ ही बजट में उनके क्षेत्र की अनदेखी से भी अमीन खान गुस्साए हुए हैं। साल 2011 में अमीन खान तत्कालीन राष्ट्रपति प्रतिभा देवीसिंह पाटिल के खिलाफ टिप्पणी करने के बाद चर्चाओं में आए थे, जिसके बाद उन्हें मंत्री पद से बर्खास्त किया गया था।

मंत्रिमंडल में अनदेखी का आरोप