Bulli Bai App Case में एक और गिरफ्तारी, मुंबई साइबर सेल ने ओडिशा से पकड़ा चौथा आरोपी

मुंबई

Bulli Bai App Case में मुम्बई के साइबर सेल ने एक और आरोपी को गिरफ्तार किया है. ओडिशा से पकड़े गए इस आरोपी का नाम नीरज सिंह है. इस मामले में मुंबई पुलिस की यह चौथी गिरफ्तारी है. इससे पहले इस मामले में ऐप का निर्माता 21 वर्षीय नीरज बिश्नोई को दिल्ली पुलिस ने गिरफ्तार किया था. नीरज ने पुलिस कस्टडी में ही खुदकुशी करने की भी कोशिश की थी, जिसके बाद से ही कस्टडी में उसका खास ध्यान रखा जा रहा है. वहीं मुंबई पुलिस के साइबर सेल ने विशाल कुमार झा, श्वेता सिंह और मयंक रावत को पहले ही गिरफ्तार कर लिया था. यह तीनों भी इस मामले में नीरज के साथ मिले हुए थे.

मुस्लिम महिलाओं की तस्वीरें अपलोड कर नीलामी करने वाली बुल्ली बाई ऐप पिछले साल नवंबर में बनाई गई थी और इसे दिसंबर में अपडेट किया गया था. बुल्ली बाई मोबाइल ऐप्लिकेशन पर ‘‘नीलामी” के लिए सैकड़ों मुस्लिम महिलाओं का नाम डाला गया था और बिना अनुमति के उनकी तस्वीरें लगाई गई थीं. तस्वीरों से छेड़छाड़ भी की गई थी.

हाल ही इस मामले में पटियाला हाउस कोर्ट ने वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए जमानत याचिका पर सुनवाई करते हुए नीरज व उनके साथियों की जमानत याचिका को खारिज कर दिया था. नीरज बिश्नोई के वकीलों ने दलील दी थी कि आरेपी 20 साल का लड़का है और उस पर लगाए गए आरोप बेबुनियाद हैं, उसने यह ऐप किसी महिला की बदनामी के मकसद से नहीं बनाई थी और उसके पास से कोई रिकवरी भी नहीं हुई है, लिहाजा उसे जमानत दी जाए.

इस पर स्पेशल सेल की आईएफएसओ यूनिट ने दलील दी थी कि इस ऐप पर मुस्लिम महिलाओं की फोटो डालकर नीलाम करने की कोशिश की गई थी, जिस ट्विटर अकाउंट से ये फोटो शेयर की गई वो सब आरोपी के ही थे, लिहाजा जमानत नहीं दी जानी चाहिए.