मत्स्य पालन में यूपी को नम्बर एक बनाया जाये: रियाज़ अहमद

लखनऊ, यूपी

मत्स्य सहकारी संघ और मत्स्य विभाग के संयुक्त तत्वावधान में एक्लव्य मत्स्य ट्रेनिंग सेन्टर एवं अनुसंधान केन्द्र चिनहट, गोमतीनगर में मत्स्य विकास पर एक कार्यशाला का आयोजन किया गया। इस कार्यशाला का शुभारम्भ मत्स्य राज्यमंत्री (स्वतंन्त्र प्रभार) हाज़ी रियाज अहमद ने किया।

इस मौके पर बोलते हुए हाज़ी रियाज अहमद ने कहा कि मत्स्य पालकों को बढ़ावा दिये जाने के लिए हमारी सरकार प्रयासरत है। उन्होंने कार्यशाला में मौजूद मत्स्य पालकों की समस्याओं को सुना। इस मौके पर उन्होंने कहा कि जो भी समस्याएं हैं वो लिखित रूप में दें ताकि मत्स्य पालकों की समस्याओं का निस्तारण कराया जा सके।

मंत्री हाज़ी रियाज़ अहमद ने विभागीय अधिकारियों से कहा कि मेहनत और ईमानदारी तथा समन्वय स्थापित करते हुए विभागीय कार्यों का निस्तारण कराये जाने के निर्देश दिया। उन्होंने कहा कि मत्स्य विभाग का विस्तार किये जाने का पूरा प्रयास किया जायेगा।

रियाज अहमद ने कहा कि आगामी 17 अप्रैल, को लखनऊ में मत्स्य सहकारियों का महा सम्मेलन आयोजित कराया जायेगा। इसमें पूरे प्रदेश के विकास की रूपरेखा तय की जाएगी। उन्होंने कार्यशाला में कहा कि मछुवारों के विकास और उनकी माली हालत को सुधारने के लिए प्रदेश सरकार प्रयासरत है। उन्होंने यह भी कहा कि मत्स्य पालन में उत्तर प्रदेश को देश में नम्बर एक बनाया जाये।

इस मौके पर सलाहकार मत्स्य विभाग सैय्यद ज़फर मसूद किछोछवी ने भी मत्स्य पालन को बढ़ावा दिये जाने के बारे में अपने सुझाव दिये। इस मौके पर विशेष सचिव मत्स्य पी के पाण्डेय, निदेशक मत्स्य भरतलाल राय और दिल्ली से आये फिसको फैड भारत सरकार के प्रबन्ध निदेशक बी के मिश्रा, उप निदेशक ए पी अंसारी और मत्स्य विभाग के सभी अधिकारी, पूरे प्रदेश से आये हुए मत्स्य पालक व मत्स्य वैज्ञानिक समेत सैकड़ों लोग मौजूद थे।