यूपी चुनाव: मुख्तार अंसारी के बड़े भाई सिबगतुल्लाह सहित 228 उम्मीदवारों के नामांकन रद्द, अब पूर्वांचल की 54 सीटों पर बचे 651 प्रत्याशी

गाजीपुर की मुहम्मदाबाद विधानसभा सीट से सपा प्रत्याशी एवं बाहुबली मुख्तार अंसारी के बड़े भाई सिबगतुल्लाह अंसारी समेत 228 प्रत्याशियों के नामांकन पत्र रद्द हो गए हैं। इनमें जौनपुर की सदर सीट से सपा प्रत्याशी तेजबहादुर मौर्या भी शामिल हैं। शुक्रवार को नामांकन पत्रों की जांच के बाद बनारस समेत पूर्वांचल की नौ जिलों की 54 सीटों पर अब 651 प्रत्याशी बचे हैं। नामांकन पत्र वापस लेने की अंतिम तिथि 21 फरवरी है। उसके बाद प्रत्याशियों की वास्तविक संख्या सामने आएगी। 21 फरवरी को ही चुनाव चिह्न आवंटित किए जाएंगे।

जांच में मिली विभिन्न खामियों के आधार पर बनारस में सर्वाधिक 69 जबकि जौनपुर में 40 आजमगढ़ में 16 और गाजीपुर में 12 पर्चे निरस्त हुए हैं। 10 फरवरी से 17 फरवरी तक चले नामांकन में कुल 879 उम्मीदवारों ने नामांकन किया था। अधिकृत रूप से 21 फरवरी को नाम वापसी के बाद प्रत्याशियों की वास्तविक संख्या सामने आएगी। हालांकि शुक्रवार की संख्या 651 में बहुत अंतर आने की संभावना नहीं है।

नामांकन पत्रों की जांच के दौरान जिला मुख्यालयों पर सुबह से ही भीड़ रही। गाजीपुर की मुहम्मदाबाद सीट से सपा प्रत्याशी सिबगतुल्लाह अंसारी जगह पार्टी ने बी फार्म जारी कर दूसरे प्रत्याशी को उतार दिया था। इसी जिले में जखनिया सीट से बसपा से पर्चा भरने वाले रूदल कुमार का नामांकन रद्द हुआ है। यहां भी बसपा की ओर से नए प्रत्याशी को बीफार्म मिलने नामांकन रद्द हुआ। मुंगरा बादशाहपुर सीट पर दिलीप राय बलवानी का परचा भी बी फार्म की वजह से रद्द कर दिया गया है।

नौ जिलों में अवैध नामांकन 228 

सोनभद्र में 10
गाजीपुर में 12
मऊ में 15
आजमगढ़ में 16
मिर्जापुर में 21
जौनपुर में 40
चंदौली 14
भदोही में 31
वाराणसी में 69

कुल वैध नामांकन 651

सोनभद्र में 44
गाजीपुर 97
मऊ में 45
आजमगढ़ में 117
मिर्जापुर में 61
जौनपुर में 135
चंदौली 45
भदोही में 31
वाराणसी में 76