दिल्ली विधान सभा का चुनाव नहीं लड़ेगी एमआईएम

हैदराबाद ब्यूरो

तेलंगाना में मुस्लिम वोटों पर जबरदस्त पकड़ रखने वाली आल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन(एमआईएम) ने फैसला किया है कि वो दिल्ली में विधान सभा चुनाव नहीं लड़ेगी। एमआईएम के सदर असदउद्दीन ओवैसी ने कहा कि उनकी पार्टी दिल्ली में चुनाव नहीं लड़ेगी।

ऐसा माना जा रहा था कि अगर एमआईएम दिल्ली में चुनाव लड़ती है तो आम आदमी पार्टी और कांग्रेस को खासकर मुस्लिम बहुल सीटों पर खासा नुकसान कर सकती थी। इससे पहले एमआईएम महाराष्ट्र में अपनी ताकत दिखा चुकी है, जहां एमआईएम ने बीएसपी, एमएनएस जैसी पार्टियों से बेहतर प्रदर्शन करते हुए न सिर्फ 2 सीटों पर जीत हासिल की, बल्कि कई सीटों पर दूसरे स्थान पर रही थी।

एमआईएम उत्तर भारत में अपने विस्तार में तेजी ला रही है, जिसके तहत एमआईएम दिल्ली और उत्तर प्रदेश के कई शहरों में कार्यालय खोलने की योजना भी बना रही थी। एमआईएम पहले ही ऐलान कर चुकी है कि वो उत्तर प्रदेश में पार्टी का विस्तार कर रही है। जिसके बाद कयास लगाए जा रहे थे कि ओवैसी की पार्टी दिल्ली में मुस्लिम बहुल सीटों पर चुनाव लड़ सकती है। एमआईएम के इस फैसले की कई मुस्लिम संगठनों ने सराहना की है।