एमआईएम की नज़र पूर्वांचल पर, कई उम्मीदवार उतारे

फरियाद मेकरानी

बलरामपुर, यूपी
आल इंडिया मजलिसे इत्तेहादुल मुस्लिमीन यानी एमआईएम ने यूपी में होने वाले विधान सभा के चुनाव में उतरने को तैयार है। पार्टी की नज़र सबसे ज़्यादा पूर्वांचल पर टिकी है। पार्टी से जुड़े लोगों का मानना है कि अगर पहले से तैयारी करके चुनाव में पार्टी उतरेगी तो उसे कई सीटों पर जीत हासिल हो सकती है।

पार्टी ने इसी कड़ी में बलरामपुर ज़िले की गैसड़ी विधान सभा सीट से उम्मीदवार के नाम का एलान किया है। पार्टी ने यहां मंजूर आलम खान को अपना उम्मीदवार बनाया है। उनके नाम का ऐलान एमआईएम के पूर्वांचल प्रभारी हाजी अली अहमद ने प्रेस कांफ्रेंस में किया।

प्रेस कांफ्रेंस में पूर्वांचल प्रभारी हाजी अली अहमद ने कहा कि जल्द ही कई और सीटों पर नाम का एलान किया जाएगा। उन्होंने कहा कि मौजूदा सपा सरकार से जनता बेहद नाराज़ है। सपा ने मुसलमानों से जो वादे किए थे उनमें एक भी पूरे नहीं किए। सपा ने मुसलमानों को आरक्षण देने का वादा किया था पर 4 साल बीत जाने के बाद सरकार के मंत्री कह रहे हैं कि ये मुश्किल है।

प्रेस कांफ्रेंस में मौजूद ज़िला महासचिव रफीक अहमद खान ने कहा कि एमआईएम कार्यकर्ता 2017 के विधान सभा चुनाव में जी जान से जुटे हुए हैं। पार्टी को उम्मीद है कि चुनाव के रिजल्ट बेहतर आएंगे।

इस मौके पर देवीपाटन मंडल के अध्यक्ष हाजी निजामुल्ला खान, ज़िला महासचिव फैसल रफीक, ज़िला महासचिव जमीर हसन, ज़ाहिद अख़लाक़ खान, शाहिद हसन, जुनैद, आमिर, मनोज कुमार गिरी, शुभम, अज़हर, मोहम्मद हामिद, आशिफ शेख, मो० अमन खान समेत कई कार्यकर्ता मौजूद थे।

पार्टी ने इससे पहले ज़िले की उतरौला सीट से देवीपाटन मंडल के अध्यक्ष हाजी निजामुल्ला खान को उम्मीदवार बनाया है। एमआईएम ने पूर्वांचल के कई ज़िलों में उम्मीदवार उतार चुकी है। सिद्धार्थनगर ज़िले की शोहरतगढ़ विधान सभा सीट से पूर्वांचल प्रभारी हाजी अली अहमद खुद उम्मीदवार हैं। संतकबीरनगर ज़िले की खलीलाबाद सीट से हाजी तफसीर अहमद खान को अपना उम्मीदवार बनाया हैं। महाराजगंज ज़िले की फरेंदा सीट से उपेंद्र सिंह को उम्मीदवार बनाया गया है, जबकि गोरखपुर की ग्रामीण क्षेत्र विधानसभा सीट से मिर्जा दिलशाद बेग को उम्मीदवार बनाया गया है।