एमआईएम कार्यकर्ताओं ने अंबेडकर जयंती मनाई

फरियाद मेकरानी

सिद्धार्थनगर, यूपी

ज़िले में एमआईएम के पूर्वांचल कैंप कार्यालय में बाबा साहेब डॉ भीमराव अंबेडकर का 125वे जन्म दिवस को धूमधाम से मनाया। कार्यक्रम में एमआईएम के पूर्वांचल प्रभारी हाजी अली अहमद खासतौर पर मौजूद थे। इस कार्यक्रम में बड़ी संख्या में कार्यकर्ताओं ने भाग लिया।

कार्यक्रम में बोलते हुए एमआईएम के पूर्वांचल प्रभारी हाजी अली अहमद ने कहा कि दलितों, पिछड़ों, और मुसलमानों के लिए  अंबेडकर का योगदान अमूल्य है। उन्होंने कहा कि बाबा साहेब को मुल्क के संविधान निर्माता और अल्पसंख्यकों, दलितों को इंसाफ दिलाने वाले एक महान पुरुष के नाम से जाना जाता है।

हाजी अली अहमद ने कहा कि दुनियाभर के लोकतांत्रिक देशों को बाबा साहब के जन्म दिवस को मनाने की अपील की। उन्होंने कहा कि  अंबेडकर ने जातियों पर आधारित सामाजिक व्यवस्था के खिलाफ बड़ा आंदोलन खड़ा किया और सामाजिक व्यवस्था को तोड़ने का काम किया। इसके साथ ही उन्होंने अमान्य व्यवस्था के खिलाफ क्रांति पैदा की। बाबा साहब ने समाज के अंदर बराबरी, भाईचारा पर आधारित न्याय व्यवस्था कायम करने में महत्वपूर्ण योगदान दिया।

हाजी अली अहमद ने कहा कि डॉ भीमराव अंबेडकर ने संविधान में ऐसी व्यवस्था दी कि समाज में दबे कुचले लोगों को समानता अधिकार मिले। उन्होंने कहा कि एमआईएम बाबा साहेब को श्रद्धांजलि देने के साथ उनके सपनों को आगे ले जाने का काम करेगी। इसके साथ एमआईएम बाबा साहेब की सामाजिक क्रांति को आगे बढ़ाने का काम करेगी।

सभा के अंत में हाजी अली अहमद ने जय भीम जय भीम का नारा लगाया। इस इस मौके पर युवा नेता सादिक अहमद, फरीद अहमद, निशात अली, अनुराग पासवान, हाफ़िज़ असगर अली, रियाज़ अहमद समेत दर्जनों लोग मौजूद थे।