भारत की पहली मुस्लिम महिला पायलट बनी साराह हमीद

हैदराबाद, तेलंगाना

25 साल की साराह हमीद अहमद कमर्शियल पायलट का लाइसेंस हासिल करने वाली भारत की पहली मुस्लिम हैं। मुश्किल भरे सफर और आर्थिक तंगी के बावजूद साराह ने अपनी मेहनत और लगन के बल पर पायलट बनी। साराह के पिता बेंगलोर में रहते हैं और उनके पास फोटोग्राफी की एक फर्म है।

साराह ने बचपन में पायलट बनने का सपना देखा था जो हकीकत में बदल गया। साराह लाखों लड़कियों के लिए रोल मॉडल बन कर सामने आ हैं। दरअसल सपनों की उड़ान की सीमा नहीं होती, अगर इंसान की खुली आँखें और दिमाग से ख्वाब देखे तो रास्ता कितना भी मुश्किल हो, ख्वाब हकीकत में बदल जाते हैं, पर इसके लिए जुनून होना ज़रूरी है। इसी ख्वाब के सहारे आज साराह हमीद अहमद भारत की पहली मुस्लिम महिला ‘जहाज’ पायलट हैं। जो आसमान में हवाई जहाज को उड़ा रही हैं। साराह का सपना पूरा हो चुका है। भारत की पहली मुस्लिम जहाज पायलट बनकर इन्होनें इतिहास लिख दिया है।

साराह हमीद ने बातचीत में बताया कि मुस्लिम होने से मुझे बहुत सी मुश्किलों का सामना करना पड़ा है। कई लोग मुझे कहते थे कि मैं ऐसा नहीं कर पाउंगी। मैं जब अपना नाम बताती थी तो ट्रेंनिंग में भी मुझे अलग पहचान से देखा जाता था। इसके बाद भी साराह ने हिम्मत नहीं हारी और तय कर लिया था कि अब उसे पायलट ही बनना है। यही वजह है कि साराह आज भारत की पहली महिला पायलट है।

साराह ने अपनी एजुकेशन अमेरिका से की है और 2007 में पायलट की ट्रेंनिंग शुरू की थी। उस वक्त अमेरिका में वीज़ा मिलना मुश्किल था पर साराह की कोशिश की वजह से वह अमेरिका पहुंची। बीच में पैसे की कमी भी हुई। इसी समय तेलंगाना में एमआईएम के नेता अकबरुद्दीन ओवैसी की कोशिशों से तेलंगाना सरकार ने साराह को 35 लाख की वित्तीय मदद की।

अपनी मेहनत और लगन से अपने सपनों को हकीकत की ज़मीन पर उतारा है. आज जो इंसान ये सोचता है कि हम अपनी किसी मज़बूरी के चलते अपने सपनों को पूरा नहीं कर सकते हैं, उन सभी को साराह हमीद अहमद से सीखना चाहिए।

7 COMMENTS

    • Dear Shahnaj Bano… thankx for the question
      Its very simple. First you decide your target, hard work and passion… Achieve the goal

  1. Its not true….she is not the firt female pilot …There are many females before her who have been female pilot in India ,so please correct your facts and figures before posting and I can prove it.

  2. This is not true .There have been and are female pilots since before , so she i not first, so please correct your facts and figures.

    • PNS given the correct fact. Please check. Sarah is the first commercial licence holder muslim Women
      There are many category of pilot licence.

Comments are closed.