नीतीश की जेडीयू में शामिल हुए इलियास आज़मी

वाराणसी, यूपी

पूर्व सांसद और हाल में आम आजमी पार्टी से इस्तीफा देने वाले इलियास आज़मी ने जेडीयू का दामन थाम लिया है। वाराणसी में हुए एक कार्यक्रम में इलियास आज़मी ने बिहार के सीएम और जेडीयू के अध्यक्ष नीतीश कुमार के सामने पार्टी में शामिल हुए। इस मौके पर जेडीयू के तमाम दिग्गज नेता मौजूद थे।

इलियास आज़मी यूपी की शाहाबाद सीट से दो बार सांसद रह चुके हैं। पहले वो जनता दल में थे। सके बाद बीएसपी में शामिल हो गए। बाद में वो आम आदमी पार्टी के संस्थापक सदस्यों में रहे। इलियास आज़मी ने अभी हाल में ही आम आदमी पार्टी पर मुसलमानों की अनदेखी का आरोप लगाते हुए इस्तीफा दे दिया था। दरअसल पार्टी में उन्हें लगातार किनारे पर रखा गया।

पीएम नरेंद्र मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी के पिंडरा में जेडीयू के कार्यकर्ताओं का सम्मेलन आयोजित किया गया। इसमें बिहार के सीएम नीतीश कुमार ने केंद्र की मोदी सरकार पर जमकर निशाना साधा। उन्होंने शराबमुक्त समाज के साथ ही संघ मुक्त भारत का नारा बुलंद किया।  मोदी और बीजेपी को निशाने पर लेते हुए सवाल किया कि पीएम मोदी बीजेपी शासित राज्यों में शराब पर पाबंदी क्यों नहीं लगाते हैं। उन्होंने बीजेपी पर जनता को ठगने और वादा खिलाफी का भी आरोप लगाया।

सीएम नीतीश ने कहा कि जब बिहार में बीजेपी को हराया जा सकता है तो दूसरे प्रदेशों और देशभर में भी बीजेपी को हराया जा सकता है। हम संघ मुक्त भारत और शराब मुक्त समाज चाहते हैं। जेडीयू अध्यक्ष नीतीश ने संघ को निशाने पर लेते हुए कहा कि बीजेपी के वैचारिक पुरखों की देश की आज़ादी में कोई भूमिका नहीं थी। अब ये लोग देशभक्ति का पाठ पढ़ा रहे हैं।

बिहार चुनाव से पूर्व मुलायम सिंह के साथ गठबंधन करने वाले नीतीश ने सपा सुप्रीमो के खिलाफ भी हमले किए। नीतीश ने कहा कि हमने मुलायम सिंह को अपना नेता मान लिया था, लेकिन वह खुद ही हमें छोड़कर चले गए। नीतीश ने एलान किया कि जेडीयू यूपी में भी अपना जनाधार बढ़ाएगी और जून से प्रदेश में सदस्यता अभियान चलाया जाएगा। इस दौरान जेडीयू महासचिव केसी त्यागी और पूर्व अध्यक्ष शरद यादव भी मौजूद रहे।