गाजीपुर: उर्दू मीडियम से पढ़ने वाली जज हुस्ना रुस्तम “शाने उर्दू” अवार्ड से सम्मानित

RUSTAM JUDGE FROM URDU MEDIUM AWARDED SHANE URDU AWARD 1 090220

गाजीपुर, यूपी

गाजीपुर में पर्यावरण एवं शिक्षा क्षेत्र में डॉक्टर सानंद सिंह को “शाने गाजीपुर” और उर्दू मीडियम से पढ़ने वाली जज हुस्ना रुस्तम खान को “शाने उर्दू” अवार्ड से सम्मानित किया गया।

जिस समय देश गुलाम था और अंग्रेजों की हुकूमत थी उस समय अंग्रेजी पढ़ने की होड़ नहीं लगी हुई थी, जितना कि विगत दो दशक से अंग्रेजी मीडियम की होड़ लगी हुई है। ऐसी स्थिति में उर्दू मीडियम स्कूल से हाई स्कूल और इंटरमीडिएट करने वाली हुस्ना रुस्तम खान ने महाराष्ट्र राज्य की जुडिशल सर्विस कमीशन 2019 परीक्षा पास करके इस समय के शिक्षा प्राप्त करने वालों को एक नई राह दिखाई है।

उत्तर प्रदेश के गाजीपुर में अली अहमद एजुकेशनल एंड वेलफेयर सोसाइटी की ओर से शम्स मॉडल स्कूल के प्रांगण में रविवार को हुस्ना रुस्तम खान को “शाने उर्दू अवार्ड” और इसी जनपद के डॉक्टर सानंद कुमार सिंह को पर्यावरण एवं शिक्षा प्रेमी के कार्य में “शाने गाजीपुर” अवार्ड से सम्मानित किया गया।

इस अवसर पर हुस्ना रुस्तम खान जज औरंगाबाद महाराष्ट्र ने कहा कि “भारत में लड़कियों की पहचान एक बोझ है। अपनी पढ़ाई से माता पिता के बोझ को खत्म किया जा सकता है। हमें एक मकसद के तहत तालीम हासिल करनी चाहिए। गलत सोच, असल में हमारा दुश्मन होता है।”

HUSSNA RUSTAM JUDGE FROM URDU MEDIUM AWARDED SHANE URDU AWARD 3 090220

“शाने गाजीपुर अवार्ड “पाने वाले डॉ सानंद सिंह ने कहा कि “आज की जो हमारी माताओं और बच्चों को सुविधाएं प्राप्त हैं, वह सुविधाएं हमें अपने बचपन में प्राप्त नहीं थी। इसलिए हमारे बच्चों और माओं को इस नई सुविधाओं से लाभ लेनी चाहिए और अपने बच्चों की शिक्षा पर अधिक से अधिक ध्यान देने की जरूरत है।

इस अवसर पर इसलाहे मासरा समिति के अध्यक्ष हाजी अब्दुल कलाम ने कहा “कि बच्चियों की शिक्षा पर अधिक ध्यान देकर उनको अपने पैरों पर खड़ा करके दहेज जैसी लानत को समाप्त किया जा सकता है।”

जमात इस्लामी हिंद मऊ, गाजीपुर और बलिया के अमीरे जमात सैयद अहमद गाजी ने कहा कि “लोकतंत्र के चार स्तंभों में न्याय प्राणी की बड़ी अहमियत है। उस स्थान पर पहुंच कर मातृभाषा में शिक्षा प्राप्त करने वाले बच्चों को काफी हिम्मत दिया है।”

HUSSNA RUSTAM JUDGE FROM URDU MEDIUM AWARDED SHANE URDU AWARD 2 090220

इस अवसर पर अजय कुमार यादव, डॉक्टर वसीम अख्तर, सत्यम मिश्रा, हाजी जुबेर अहमद, हाजी अब्दुल मन्नान सूबेदार मेजर सिविल इंजीनियर पारसनाथ यादव, शम्स तबरेज उर्फ छेदी, एडवोकेट समता बिंद, रजिया खातून, परवेज अहमद खान, इमरान खान, प्रिंसिपल अकबर अहमद, मौलाना हैदर अली खान, निखत परवीन, नूरुल हक, शहाबुद्दीन खान, प्रधान संघ अध्यक्ष सुरेंद्र सिंह चंचल, रियाज अहमद खान, शशिकांत यादव व रामबली यादव मुख्य रूप से उपस्थित थे। इस समारोह की अध्यक्षता प्रिंसिपल राजदा खातून एवं संचालन मैनेजर इम्तियाज अहमद ने किया।