डॉ. सैयद हसन को मिलेगा पुरस्कार

किशनगंज, बिहार

मुल्क की आज़ादी की लड़ाई में भी बढ़-चढ़ कर हिस्सा लेने वाले पद्मश्री डॉ. सैयद हसन को इंदिरा गांधी सद्भावना अवार्ड के लिए नामित किया गया है। डॉ सैयद हसन इंसान स्कूल और इंसान कॉलेज के संस्थापक और सह निदेशक हैं। यह खबर मिलते ही इंसान इस्टीच्यूट ऑफ ग्रुप स्कूल के छात्रों और शिक्षकों में खुशी का माहौल है।

संस्थान की निदेशक सैयद शिफा हसन ने बताया कि 14 नवंबर, 1966 को इंसान स्कूल की स्थापना करके देश में शिक्षा के मामले में सबसे पीछे किशनगंज में दरजा एक से लेकर कालेज तक शिक्षा की शुरूआत की थी। डॉ हसन की इस उपलब्धि के बाद उन्हें शिक्षा के क्षेत्र में किए गए उत्कृष्ट कार्य के लिए पद्मश्री का सम्मान मिला था। अब डॉ हसन को शिक्षा के क्षेत्र यह दूसरा अवार्ड मिलेगा जो इंडियन सॉलिडारिटी काउंसिल की ओर से 18 दिसंबर को नई दिल्ली में एक समारोह आयोजित कर दिया जाएगा। इस समारोह में केंद्रीय मंत्री, कॉरपोरेट जगत से जुड़े सीईओ और विभिन्न देशों के राजदूतों के मौजूद रहने की उम्मीद है।

डॉ सैयद हसन का शिक्षा के क्षेत्र में काफी योगदान है। इससे पहले डॉ हसन को पद्मश्री के अलावा दर्जनो अवार्ड मिल चुके हैं। इनमें नेहरू लिट्रेसी अवार्ड, नेशनल इंटिग्रशन अवार्ड, शिक्षा भारती पुरस्कार, अवार्ड आफ एक्सेलेन्स, लाइफ टाइम एचीवमेंट अवार्ड, इंटर नेशनल एचीवर्स अवार्ड शामिल हैं। वहीं विदेश में इंस्ट्रक्टर ऑफ द एचर अवार्ड, पाईडेल्टाकेप्पा अवार्ड और एलम्नाई अवार्ड से सम्मानित हो चुके है। डॉ. हसन दस वर्षो तक केंद्रीय शिक्षा सलाहकार बोर्ड, भारत सरकार में सदस्य रह चुके हैं।