मणिपुर और कश्मीर से सेना विशेषाधिकार कानून हटाया जाये: SDPI 

कानपुर, यूपी

सोशल डेमोक्रेटिक पार्टी ऑफ़ इंडिया कानपुर युनिट ने मणिपुर और जम्मू कश्मीर से सेना के विशेषाधिकार कानून यानी एफ्पसा हटाने की मांग की है। SDPI ने इस संबंध में स्थानीय ज़िलाधिकारी के माध्यम से राष्ट्रपति के नाम एक ज्ञापन सौंपा है।

राष्ट्रपति के नाम ज्ञापन में SDPI की ज़िला यूनिट ने मांग की है कि मणिपुर और जम्मू कश्मीर में तत्काल प्रभाव से एफ़्सपा जैसा दमनकारी कानून हटाया जाये। दरअसल इस कानून में सेना को इन क्षेत्रों में विशेष अधिकार मिला हुआ है जिसके तहत सेना किसी को भी गिरफ्तार कर सकती है और हिरासत में रख सकती है।
इफ़्सपा कानून का विरोध इरोम शर्मीला चानू कर रही हैं जो 16 वर्षों से भूख हड़ताल पर थी। जब सरकार पर कोई असर नहीं हुआ तो उन्होंने अनशन ख़त्म करने का ऐलान किया है। SDPI इरोम शर्मीला चानू की लड़ाई में पूरी तरह से उनका समर्थन करती है और इस लड़ाई में उनके साथ है।

SDPI के प्रतिनिधिमंडल में प्रदेश उपाध्यक्ष मोहम्मद सलीम, ख़ुर्शीद अली जामी, हिना नक़वी, सफ़िया फ़ातिमा, मोहम्मद आसिफ़,  मोहम्मद जुनेद, मोहम्मद नफ़ीस आज़ाद, मोहम्मद आरिफ़ आदि मौजूद रहे।