सालों जूझती रही जनता, रोड शो के लिए अब रास्ता साफ कर किया

मोहम्मद ज़कारिया

लखनऊ, यूपी
जब नेताओं की बात हो तो पुलिस और प्रशासन ऐसे हरकत में आता है मानों उनकी नौकरी पर आ पड़ी हो। जी हां… सालों से राजधानी लखनऊ के चौक इलाके में बीच सड़क पर चल रही अवैध पार्किंग पर पुलिस प्रशासन हरकत में आया है। यहां से अब गाड़ियों को टो किया जा रहा है। दरअसल इसकी वजह आम लोगों को परेशानी से दूर करना नहीं बल्कि राहुलगांधी और अखिलेश यादव के रोड़ की वजह से पुलिस जागी है।

राजधानी लखनऊ में सड़क जाम की समस्या आम है। एक तरफ तो मेट्रो के काम से शहर से सबसे व्यस्त इलाके जाम से जूझ रहे हैं तो दूसरी की अवैध पार्किंग से पूरा शहर परेशान है। नेता, अफसर और ठीकेदारों की मिलीभगत से चलने वाली अवैध पार्किंग पर की भी आवाज़ नहीं सुनी जा रही है। जाम से जूझते शहर में पूराने लखनऊ की बात करें तो वहां हालात कुछ ज़्यादा की खराब है। चौक में बीच सड़क पर वाहनों का जमावड़ा रहता है। अब पुलिस ने एक्शन लिया है।

पुलिस की ये कार्रावई आज तक़रीबन दिन के 12 बजे से शुरू हुई। इसके तमाम गाड़ियों को टो करके हुसैनाबाद के करीब एक जगह पर पहुंचा दिया गया। इस सिलसिले जब वहां मौजूद यातायात पुलिस ने बताया कि ऊपर से आदेश के चलते ये काम किया गया। अब देखना ये है कि यहां कब तक गाड़िया नहीं खड़ी की जाती है।

स्थानीय निवासी मोहन सिंह सेठ कहते है कि पिछले 10 सालों से ये गाड़िया यहां पार्क हो रही है। मोहन सेठ ने बताया कि रोड़ पर पिछले 6 महीने से कूड़ा पड़ा था जिसे अब उठाया जा रहा है। यहीं के रहने वाले इमरान ने कहा कि सिर्फ एक्सप्रेस-वे बना लेने से विकास नहीं हो जाता। शहरों में बुनियादी समस्याओं को भी हल करना ज़रूरी है।