मुस्लिमों विरोधी नारेबाज़ी: मुख्य आरोपी अश्विनी उपाध्याय समेत 5 गिरफ्तार

DELHI PROTEST AGAINST MUSLIM ROAR POLICE ARREST CULPRIT 1 100821
फोटो वाया सोशल मीडिया

नई दिल्ली

राष्ट्रीय राजधानी के वीवीआईपी क्षेत्र में 8 अगस्त को जंतर-मंतर पर मुस्लिमों के खिलाफ विवादित नारेबाज़ी का मामला तूल पकड़ लिया है। सोशल मीडिया पर भारी दबाव और विदेशों में वीडियों वायरल होने के बाद दिल्ली पुलिस हरकत में आई है। अब दिल्ली पुलिस ने ‘भारत जोड़ो आंदोलन’ के प्रदर्शन के दौरान धर्म विशेष के खिलाफ नारेबाजी करने के मामले में मुख्य अभियुक्त अश्विनी उपाध्याय समेत पांच आरोपियों को हिरासत में ले लिया है।

दिल्ली पुलिस ने 9 अगस्त की देर रात को ही अश्विनी उपाध्याय को कनॉट प्लेस थाने में बुलाया था, जिसके बाद से उनसे पूछताछ चल रही है। अगर इस मामले में उनकी भूमिका संदिग्ध पाई जाती है और पुलिस उन्हें इस मामले में आरोपी बनाती है तो उन्हें आज पटियाला कोर्ट में पेश किया जा सकता है।

सूत्रों के मुताबिक अश्विनी उपाध्याय को सोमवार देर शाम दिल्ली पुलिस की तरफ से इस मामले में पूछताछ के लिए कनॉट प्लेस थाने में आने के लिए कहा था। इसके बाद वे थाने पहुंचे। तब से उनसे पूछताछ चल रही है।

दरअसल रविवार को जंतर-मंतर पर भारत जोड़ो आंदोलन के बाद सोशल मीडिया पर एक वीडियो वायरल हो गया था। इसमें मुस्लिम धर्म के खिलाफ आपत्तिजनक नारेबाजी की गई थी। इस वीडियो के वायरल होने के बाद कांग्रेस नेता शशि थरूर, एआईएमआईएम सांसद असदुद्दीन ओवैसी समेत कई राजनीति औऱ सामाजिक व्यक्तियों ने इसके खिलाफ आवाज उठाई थी। सोशल मीडिया पर अश्विनी उपाध्याय को गिरफ्तार करने की मांग भी की जा रही थी।

आपत्तिजनक वीडियो के मामले में नौ अगस्त को दिल्ली पुलिस ने एक एफआईआर भी दर्ज कर ली थी। इसमें अज्ञात लोगों को आरोपी बनाया गया था। दिल्ली पुलिस को इस वीडियो में शामिल चेहरों की तलाश थी।