कांग्रेसियों को मिली ज़मानत, प्रदर्शन जारी

जौनपुर, यूपी

काबीना मंत्री पारसनाथ यादव के खिलाफ आंदोलन करने वाले कांग्रेस कार्यकर्ताओं को शुक्रवार को ज़मानत मिल गई। ज़मानत मिलने के बाद जैसे ही कांग्रेस कार्यकर्ता दीवानी न्यायालय के बाहर निकले, युवा कांग्रेसियों ने फिर प्रदेश सरकार और मंत्री पारसनाथ यादव के खिलाफ ज़ोरदार नारेबाज़ी की। सदर विधायक के प्रतिनिधि खुर्शीद अनवर खान और युवा कांग्रेस अध्यक्ष सत्यवीर सिंह ने कहा कि पीड़िता को न्याय दिलाने तक कांग्रेस ये लड़ाई जारी रखेगी। कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने प्रदेश सरकार पर सत्ता का दुरुपयोग करने और जुल्म के बल पर आंदोलन को दबाने का आरोप लगाया। उन्होंने कहा कि सत्ताधारी लोग चाहे जितना भी ज़ुल्म करें वो झुकने वाले नहीं हैं।

गौरतलब है कि लाईनबाजार थाना क्षेत्र के पचहटिया गांव की निवासी  ऊषा मौर्या की ज़मीन कब्ज़ा करने के आरोपी उद्यान और खाद्य प्रसंस्करण मंत्री पारसनाथ यादव के इस्तीफे की मांग को लेकर पिछले एक हफ्ते से युवा कांग्रेसी आंदोलन चला रहे हैं। तीन दिन पहले मंत्री पारसनाथ का पुतला जलाने और हौर्डिंग पर कालिख पोतने के आरोप में विधायक प्रतिनिधि खुर्शीद अनवर, युवा कांग्रेस ज़िलाध्यक्ष सत्यवीर सिंह समेत कई कांग्रेसियों के खिलाफ सपा कार्यकर्ताओं ने कोतवाली में मुकदमा दर्ज कराया था। शुक्रवार को सीजेएम कोर्ट इन सभी को ज़मानत मिल गई।

ज़मानत मिलने के बाद जैसे ही कार्यकर्ता न्यायालय से बाहर निकले, उनके साथियों ने युवा नेताओं का माला पहना स्वागत किया। इस मौके पर लिए जयमंगल यादव, बांकेलाल शुक्ला, मन्नू खान, विकास सिंह, दीपक मोर्य, शिबली, राहिल खान, विपिन उपाध्याय, जन्मेजय सिंह, सिकंदर, सद्दाम सलमानी, मौनू मोर्य, अमित तिवारी, दिलीप मिश्र, समेत भारी संख्या में कार्यकर्ता मौजूद थे।

वहीं सपा कार्यकर्ता भी लगातार प्रदर्शन कर रहे हैं। मंत्री पारसनाथ के खिलाफ आंदोलन चला रहे कांग्रेस कार्यकर्ता इस मुद्दे पर पीछे हटने को तैयार नहीं हैं, वहीं मंत्री समर्थक भी लगातार दबाव बना रहे हैं। एक बात तो तय है कि जौनपुर में पहली बार इस तरह का आंदोलन देखने को मिल रहा है। सूत्रों की खबर के मुताबिक कुछ पत्रकार इस मामले में समझौते कराने की कोशिश कर रहे हैं।