आरएसएस की दो आंखें हैं कांग्रेस और बीजेपी: एमआईएम

फरियाद मेकरानी

महाराजगंज, यूपी
देश में आज़ादी के बाद से ही सभी दलों की सरकारों ने मुस्लिम और दलित समाज को छलने का काम किया है। चुनाव आते ही ये दल बड़े बड़े वादे करते हैं लेकिन चुनाव जीतने के बाद उन वादों को ठंढे बस्ते में डाल दिया जाता है। यह बातें आल इण्डिया मजलिसे इत्तेहादुल मुस्लिमीन पार्टी के ज़िलाध्यक्ष सरवर खान ने कार्यकर्ताओं की सभा में कहीं।

एमआईएम ने ज़िले की फरेंदा विधान सभा के सिसवां में एक सभा का आयोजन किया था। इसमें ज़िले के पार्टी के कई नेता शामिल हुए। सभा को सम्बोधित करते हुए ज़िलाध्यक्ष सरवर ख़ान ने कहा कि सभी पार्टियों ने दलित और मुसलमानों के साथ सौतेला व्यवहार किया। सरवर खान ने कहा कि कांग्रेस और भाजपा आरएसएस की दो आँखें हैं। इन दोनों पार्टियों ने देश के हिन्दू और मुस्लिम को बाँटने का काम किया है।

सरवर ख़ान ने कहा कि ये दल पूरे देश में नफरत की आग फैलाकर अपनी राजनीतिक रोटी सेंकने का काम कर रहीं हैं। आज इसी नफरत का नतीजा है कि इस मुल्क का मुस्लिम और दलित समाज हर मैदान में पिछड़ गया। सभी पार्टियां देश में दंगा कराकर मुसलमानों को पीछे करने का काम करती हैं।

सरवर खान ने कहा कि मौजूदा सपा सरकार में अब तक लगभग 457 दंगे हो चुके हैं। इसमें सैकड़ों मुसलमानों की जानें गई हैं। उन्होंने आगे कहा अब यूपी का मुसलमान मुज़फ्फरनगर दंगे और दादरी की घटना को नही भूलेगा। वह 2017 के विधान सभा चुनाव में सपा सरकार को उखाड़ फेंकने का काम करेगा।

इस मौके पर सभा को सम्बोधित करते हुए फरेन्दा विधान सभा के उम्मीदवार उपेन्द्र सिंह ने कहा कि हिन्दू और मुस्लिम इस मुल्क की दो खूबसूरत आँखें हैं। ये मुल्क तभी खूबसूरत रहेगा जब ये दोनों आँखें खूबसूरत रहेंगी। इस मौके पर दिलशाद अहमद, अफसर अली, साहिल, पंकज, राज, हफ़ीज़ अहमद, तनवीर अशरफ समेत सैकड़ों लोग मौजूद थे।