ओवरलोडिंग और डग्गामारी के खिलाफ अभियान

लखनऊ, यूपी

प्रदेश के परिवहन राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) यासर शाह ने निर्देश जारी किया है कि पूरे प्रदेश में ओवरलोडिंग और डग्गामार बाहनों के खिलाफ विभाग अबियान चलाए। इस निर्धेश के बाद  परिवहन विभाग ने प्रदेश भर में ओवरलोडिंग और डग्गामारी के खिलाफ तीन दिन का अभियान चलाया और 4480 गाड़ियों का चालान किया। इनमें 3612 वाहनों को सीज कर पुलिस को सौंप दिया।

यासर शाह ने पिछले दिनों विभागीय समीक्षा बैठक के दौरान प्रदेश में ओवरलोड़ेड वाहनों और अनाधिकृत, डग्गामार सवारी वाहनों के विरूद्ध सख्त कार्रवाई के निर्देश परिवहन आयुक्त को दिये थे। परिवहन मंत्री के निर्देशों के क्रम में परिवहन अधिकारियों ने तीन दिवसीय सघन चेकिंग अभियान चलाकर 2672 ओवरलोडेड वाहनों का चालान किया।

चालान किए गए वाहनों में 2333 वाहनों को सीज कर थानों में बन्द कराया गया। इस अभियान के दौरान डग्गामार सवारी वाहनों में 1808 का चालान किया गया। इनमें से 1279 वाहनों को सीज कर थानों में बन्द कराया गया।

परिवहन मंत्री यासर शाह ने मिर्ज़ापुर और सोनभद्र जनपद में हो रही ओवरलोडिंग पर प्रभावी अंकुश लगाने के लिए वाराणसी परिक्षेत्र के उप परिवहन आयुक्त नरेन्द्र राय के पर्यवेक्षण में प्रवर्तन दस्ते को गठन करने का आदेश दिया। इसके बाद प्रवर्तन दस्ते ने मिर्जापुर जनपद में चेक प्वाइंट निर्धारित कर ऐसे 40 वाहनों का चालान किया। इनमें से 29 वाहनों को सीज कर थाना में बन्द भी करवाया।

इस प्रवर्तन दस्ते में सहायक सम्भागीय परिवहन अधिकारी (प्रवर्तन) पंकज सिंह (सीतापुर), आर पी सिंह (इलाहाबाद), राकेश सिंह (गोरखपुर), उमाशंकर यादव (लखनऊ) और सुरेश कुमार वर्मा (कानपुर) शामिल थे।

ओवरलोडेड और डग्गामार वाहनों की चेकिंग अभियान के दौरान लखनऊ में 68, कानपुर नगर 60, मुरादाबाद में 59, मेरठ 51, कौशाम्बी में 50, अमरोहा में 45, झाँसी में 47, आगरा में 43 और गाजियाबाद में 37 वाहनों का चालान किया गया।