जावेद के पहले शक्ति प्रदर्शन में बड़े नेता गायब

शारिक ख़ान

जौनपुर, यूपी

जौनपुर सदर सीट से सपा प्रत्याशी मोहम्मद जावेद सिद्दीक़ी टिकट मिलने के बाद लखनऊ से पहली बार जौनपुर लौटे। इस मौके पर समर्थकों ने उनका ज़ोरदार स्वागत किया। स्थानीय बाज़ार खेतासराय के आर्यनगर से जावेद सिद्दीक़ी के समर्थन में निकला काफिला ज़िला मुख्यालय पर पहुंच कर खत्म हुआ।

जावेद सिद्दीक़ी के स्वागत की सबसे खास बात ये रही कि इस दौरान ज़िले का कोई बड़ा नेता मौजूद नहीं था। मालूम हो कि जौनपुर में 7 विधायक सपा के हैं। कई मंत्री हैं। दूसरी तरफ सपा के पदाधिकारी भी गायब रहे। इस बात को लेकर कई चर्चाएं चल रही हैं।

जावेद सिद्दीक़ी के स्वागत के मौके पर कार्यकर्ताओं ने जगह-जगह स्वागत द्वार बनाए गए थे। कार्यकर्ताओं ने ढोल-नगाड़ों से भव्य स्वागत किया। शाहगंज की तरफ से आया उनका काफिला भ्रमण करते हुये अलफस्टीनगंज स्थित सपा के ज़िला कार्यालय पर पहुंचकर समाप्त हो गया।

इसके पहले जावेद सिद्दीक़ी शाहगंज से चलकर सदर विधानसभा क्षेत्र के पहले गांव गोरारी  पहुंचे जहां उपस्थित लोगों ने माल्यार्पण कर उनका ज़ोरदार स्वागत किया। दर्जनों मोटरसाइकिल और चार पहिया वाहनों का काफिला गोरारी के बाद खेतासराय पहुंचा। यहां पर भी जावेद का स्वागत किया गया। इसके बाद काफिला बढ़ता गया।

इसके बाद जावेद सिद्दीकी का काफिला गुरैनी, जपटापुर, भकुरा मोड़, पूर्वांचल यूनिवर्सिटी होते हुये कारगिल पेट्रोल पम्प के पहुंचा। यहां मौजूद समर्थकों ने उनका स्वागत किया। इस दौरान ढोल-नगाड़े बजाकर लोगों ने डांस भी किया।

इस दौरान युवा अब्दुल हलीम, नेता वीरेन्द्र यादव कर रहे थे जहां क्षेत्र पंचायत सदस्य बांके लाल यादव, धर्मेन्द्र यादव लाले, सुरेन्द्र सिंह, डीपी प्रजापति, रामलखन यादव, जिला पंचायत सदस्य सुभाष सोनकर, राम आसरे यादव, ग्राम प्रधान समेत कई कार्यकर्ता मौजूद थे।