बटला हाउस इनकाउंटर: उलेमा कौंसिल का कल ज़ोरदार प्रदर्शन

आज़मगढ़, यूपी

दिल्ली के बटला हाउस इनकाउंटर की आठवीं बरसी के मौके पर कल उलेमा कौंसिल ज़िला मुख्यालयों पर प्रदर्शन करेंगी। उलेमा कौंसिल दिल्ली में भी प्रदर्शन करेंगी। पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष मौलाना आमिर रशादी मदनी खुद आज़मगढ़ में मौजूद रहेंगे और धरना-प्रदर्शन का नेतृत्व करेंगे। कौंसिल का ये प्रदर्शन ज़िले के मेहता पार्क में होगा। धरना-प्रदर्शन को लेकर पार्टी कई दिनों से तैयारी कर रही है।

पीएनएस से खास बातचीत करते हुए राष्ट्रीय उलमा कौंसिल के प्रवक्ता तलहा रशादी ने बताया कि पार्टी पिछले आठ सालों से दिल्ली के बटला हाउस में हुए फर्जी इनकाउंटर की जांच की मांग कर रही है। उन्होंने कहा कि इस संबंध में उलेमा कौंसिल की मांग का कई नेताओं और दलों ने समर्थन भी किया है। उन्होंने कहा कि इतने साल बीत जाने के बाद ही अभी तक जांच का फैसला तक नहीं हो पाया तो इस मामले में फिर इंसाफ कैसे मिलेगा।

धरना-प्रदर्शन के मुद्दे पर बात करते हुए तलहा रशादी ने बताया कि पार्टी हर साल 19 सितंबर को दिल्ली में प्रदर्शन करती थी। जिसमें पूरे प्रदेश से कार्यकर्ता दिल्ली जाते थे। इस बार हर ज़िले के मुख्यालय पर प्रदर्शन करने का फैसला किया गया है। उन्होंने बताया कि पार्टी के अध्यक्ष मौलाना रशादी आज़मगढ़ में रहकर प्रदर्शन का नेतृत्व करेंगे। उन्होंने कहा कि पार्टी की पश्चिम यूपी के कई ज़िलों की यूनिट दिल्ली में प्रदर्शन करेगी।

180916-ruc-protest-on-batla-hause-encounter-2

तलहा रशादी ने बताया कि बटला हाउस फर्जी इनकाउंटर की ज़िम्मेदार कांग्रेस थी और उस समय दिल्ली की सीएम शीला दीक्षित थी। अब कांग्रेस ने उन्हें यूपी का सीएम प्रोजेक्ट किया है। उलेमा कौंसिल शीला दीक्षित का विरोध करती है। इसके साथ ही कौंसिल के कार्यकर्ताओं ने कई जगह पर राहुल गांधी को काले झंडे भी दिखाए हैं। तलहा रशादी ने बताया भी आज भी बुंदेलखंड के चित्रकूट और मोठ में कौंसिल के कार्यकर्ताओं ने राहुल गांधी को काले झंडे दिखाए।