बदायूं: नगर पालिका चेयरमैन को लखनऊ से बुलावा आया तो फैल गई ये अफवाह

बदायूं के ककराला के चेयरमैन को लखनऊ से शासन का बुलावा आया तो क्षेत्र में उनका पावर सीज होने की अफवाह फैल गई। इस पर चेयरमैन के पति और पूर्व विधायक मुस्लिम खां ने गुस्‍सा जाहिर करते हुए कहा कि विरोधी उनके खिलाफ साजिश कर रहे हैं। उन्‍होंने कहा कि नगर पालिका द्वारा कराए जा रहे विकास कार्य विरोधियों को रास नहीं आ रहे।

पूर्व विधायक ने सफाई दी कि ककराला के चेयरमैन का पावर सीज नहीं किया गया है। उनको लखनऊ बुलाया गया है। गौरतलब है कि 2018 में शिकायत के बाद शासन ने ककराला चेयरमैन के पावर सीज कर दिये थे और प्रशासक के रूप में उस समय के सिटी मजिस्ट्रेट केके अवस्थी को चार्ज दे दिया था। सरकार के फैसले के बाद चेयरमैन ने हाईकोर्ट का दरवाजा खटखटाया। वहां से उन्हें राहत मिल गई थी।

तबसे वह लगातार सक्रिय हैं। मंगलवार को शासन से डीएम के पास पहुंचे पत्र में उनको लखनऊ बुलाया गया था। शासन के पत्र को गंभीरता से लेते हुये ककराला पालिका के अधिकारी के जरिये उक्त पत्र को चेयरमैन को भिजवाया गया और अफवाह फैल गई। ईओ राम सिंह ने बताया, चेयरमैन के पावर सीज नहीं किये गये हैं। उन्‍हें लखनऊ बुलाया गया है। पूर्व विधायक ने कहा कि नगर पालिका में विकास के काम बेहतर तरीके से हो रहे हैं। यह बात विरोधियों को पसंद नहीं आ रही है।