आज़म ख़ां को मंत्रिमंडल से बर्खास्त किया जाए: सिराज मेंहदी

लखनऊ, यूपी

कांग्रेस ने कैबिनेट मंत्री आज़म ख़ां को मंत्रिमंडल से बर्खास्त करने की मांग की है। कांग्रेस अल्पसंख्यक विभाग के चेयरमैन सिराज मेंहदी ने जारी एक बयान में कहा कि बुलन्दशहर में हाईवे पर हुए सामूहिक रेप के वहशियाना वारदात पर समाजवादी पार्टी के सीनियर नेता और कैबिनेट मंत्री मोहम्मद आज़म खां ने जो विवादित बयान दिया था कि इस दुर्भाग्यपूर्ण घटना को राजनीतिक साजिश करार दिये जाने के मामले में सुप्रीम कोर्ट ने नाराज़गी जताई है। सिराज मेंहदी ने कहा कि आज़म ख़ां की ये गंभीर टिप्पणी पर प्रदेश के सीएम अखिलेश यादव को तुरंत एक्शन लेना चाहिए।

प्रदेश कांग्रेस के उपाध्यक्ष और अल्पसंख्यक विभाग के चेयरमैन हाजी सिराज मेंहदी ने कहा कि जिस प्रकार सुप्रीम कोर्ट ने आज़म खां की गैर हाज़िरी पर गहरी नाराज़गी जताते हुए टिप्पणी की है। ऐसे में संवैधानिक पद पर उन्हें बने रहने का कोई अधिकार नहीं है। उन्होंने कहा कि अगर सीएम अखिलेश यादव आज़म खां को मंत्रिमण्डल से बर्खास्त नहीं करते हैं तो प्रदेश के संवैधानिक मुखिया होने के नाते राज्यपाल को संविधान की रक्षा के लिए आज़म खां के खिलाफ कड़ी कार्यवाही करनी चाहिए।

हाजी सिराज मेंहदी ने कहा कि आज़म खां अपने विवादित और उलूल-जुलूल बयानों के ज़रिये सुर्खियों में बने रहने के लिए कुख्यात हैं। बुलन्दशहर में जिस प्रकार की घटना हुई है उस पर आज़म खां का बयान एक ज़िम्मेदार संवैधानिक पद पर बैठे व्यक्ति के लिए शर्मनाक है। आज़म खां के इस तरीके के बयानों से कई बार प्रदेश सरकार को शर्मसार होना पड़ा है।