अल्लाह की मेहरबानी से बस मैं बच गया: आज़म ख़ान

बाराबंकी, यूपी

बहराइच में समाजवादी पार्टी के लिए प्रचार करने के बाद कैबिनेट मंत्री आज़म आकन उस समय बाल-बाल बच गए जब उनके हेलीकाप्टर में अचानक तकनीकी खराबी आ गई। हेलीकाप्टर के पिलट ने सूझबूझ से इसे सुरक्षित एक खेत में उतार लिया। जैसे ही इस बात की जानकारी स्थानीय अधिकारियों को हुई तुरंत ही मौके पर सब पहुंच गए। ये हादसा बाराबंकी के जहागीराबाद इलाके में पेश आया।

इस हादसा के टलने के बाद आज़म ख़ान ने कहा कि अल्लाह की मेहरबानी से वो बस बच गए। उन्होंने कहा कि एक वक्त तो ऐसा लगा कि आगे अब क्या होगा लेकिन पाइलट ने सूझबूझ का परिचय देते हुए सुरक्षित लैंडिंग कराई। इसके बाद वो लगातार फोन पर अपने लोगों को इस बात की जानकारी देते रहे।

उनके साथ हेलीकाप्टर में मौजूद रहे शिया वक्फ बोर्ड के चेयरमैन वसीम रिजवी ने कहा कि जैसा हेलीकाप्टर उपलब्ध कराया गया, उसकी जांच होनी चाहिए। उधर, लखनऊ में एयरपोर्ट प्रशासन ने बताया कि आज़म खान के चॉपर की शाम 6 बजकर 6 मिनट पर तकनीकी खराबी के कारण जहांगीराबाद के पास के गांव में सावधानी बरतते हुए लैंडिंग कराई गई। एयरपोर्ट अधिकारियों की माने तो यह कोई इमरजेंसी लैंडिंडग नहीं थी।

बहराइच में जनसभा के बाद आज़म ख़ान और उनके साथियों को लेकर हेलीकाप्टर शाम करीब पौने 6 बजे लखनऊ के लिए उड़ा था। आज़म के वक्फ बोर्ड के चेयरमैन वसीम रिजवी, दो सुरक्षाकर्मी और दो पायलट मौजूद थे। ये हादसा बाराबंकी के करीब पेश आया जब उनके हेलीकाप्टर को अमरजेंसी लैंडिंग करनी पड़ी।