मुसलमानों के सच्चे रहनुमा हैं असदुद्दीन ओवैसी: पाशा कादरी

गोरखपुर, यूपी

एमआईएम के राष्ट्रीय महासचिव और हैदराबाद की चारमीनार सीट से एमएलए सैयद अहमद पाशा कादरी ने कहा है कि असदुद्दीन ओवैसी हिंदुस्तान के मुसलमानों के सच्चे रहनुमा हैं। उनकी अगुवाई में आज देश भर का मुसलमान एकजुट हो रहा है। उन्होंने कहा कि अगर आप का साथ रहा तो यूपी में 2017 के चुनाव में एमआईएम को बड़ी सफलता मिलेगी।

पार्टी महासचिव पाशा कादरी दो दिनों के यूपी दौरे पर हैं। वे आज गोरखपुर में ईद मिलन समारोह और विशाल कार्यकर्ता सम्मेलन को संबोधित कर रहे थे। इसका आयोजन आल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन गोरखपुर यूनिट की तरफ से किया गया था। ये आयोजन इलाहीबाद ताज पैलेस में किया गया। सम्मेलन में प्रदेश संयोजक हाजी शौकत अली, हैदराबाद से आए पार्टी के नेता वजाहतुल्लाह खान शामिल हुए। इससे पहले इन नेताओं का गोरखपुर पहुंचने पर फूल मालाओं से ज़ोरदार स्वागत किया गया।

180716 PASHA GORAKHPUR VISIT 3

पार्टी महासचिव पाशा कादरी ने कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए कहा कि 2002 में गुजरात का दंगा हिंदुस्तान की तारीख का सबसे बदनुमा दाग है। इसमें सैकड़ों लोगों को मौत के घाट उतार दिया गया और हजारों लोग बेघर हो गए थे। उन्होंने कहा कि सपा, बीएसपी और कांग्रेस पर निशाना साधते कहा कि मुसलमानों को अपने फायदे के लिए ये पार्टिया हमेशा इस्तेमाल करती रही है। अब इनसे होशियार रहने की ज़रूरत है।

एमआईएम प्रदेश संयोजक हाजी शौकत अली ने कहा कि पार्टी ने चुनाव की तैयारियां अभी से शुरु कर दी हैं। यूपी में पार्टी की करीब सभी ज़िलों में यूनिट का गठन हो चुका है। अब बूथ लेवल पर काम चल रहा है। इसके साथ ही पार्टी ने कई सीटों से अपने उम्मीदवारों के नाम का एलान भी कर चुकी है। ये लोग सबके साथ मिलकर चुनाव की तैयारियों में लगे हैं। 2017 के चुनाव में पार्टी का प्रदर्शन सबको चौका देगा।

गोरखपुर ग्रामीण सीट उम्मीदवार और सम्मेलन के आयोजक मिर्जा दिलशाद बेग ने कहा कि आज़ादी के बाद से ही मुसलमानों को छला जा रहा है। बीएसपी, सपा और दूसरी पार्टियों ने सिर्फ वादे ही किए हैं। किसी ने भी मुसलमानों का विकास नहीं किया और न ही उन पर ध्यान दिया। एमआईएम मुसलमानों के हक की लड़ाई लड़ रही है।

महाराजगंज ज़िलाध्यक्ष सरवर आलम ने कहा कि 1857 से लेकर अब तक मुसलमानों को अपने फायदे के लिए यूज करते रहे और मुसलमान यूज़ होता रहा मुसलमानों का हाथ आज भी खाली है। कार्यकर्ता सम्मेलन में भाग लेने आए देवरिया ज़िलाध्यक्ष ने कहा सपा से मुसलमानों का भरोसा उठ चुका है। जिस उम्मीद के साथ मुसलमानों ने समाजवादी पार्टी को वोट किया था समाजवादी पार्टी की सरकार उस भरोसे पर खरा नहीं उतरी रही है।

कार्यक्रम में विधानसभा के उम्मीदवार उपेंद्र सिंह, खलीलाबाद सीट उम्मीदवार हाजी तफसीर खान, शोहरतगढ़ से उम्मीदवार हाजी अली अहमद, मिर्जा फहद बेग, तनवीर आलम समेत तमाम कार्यकर्ताओं ने सम्मेलन में भाग लिया। कार्यक्रम में बड़ी संख्या में लोगों के पहुंचने पर और कार्यक्रम के कामयाब होने पर गोरखपुर ज़िलाध्यक्ष समीर सिद्दीकी की पार्टी के नेताओं ने तारीफ की।

एमआईएम की यूपी में पहली रैली, सरकार पर बरसे नेता