हमें हराया तो नहीं खा पाओगे बीफ: असदुद्दीन ओवैसी

हैदराबाद

देश में बीफ के मुद्दे पर राजनीति अभी भी जारी है। एमआईएम अध्यक्ष और हैदराबाद के सांसद असदुद्दीन ओवैसी ने विवादित बयान दिया है। हैदराबाद में एक सभा के दौरान इस मुद्दे को उठाते हुए ओवैसी ने कहा कि अगर वे बीफ खाना चाहते हैं तो उनकी पार्टी को विजयी बनाए।

इस समय ग्रेटर हैदराबाद में स्थानीय निकाय का चुनाव चल रहा है। इसी चुनाव के लिए रैली के दौरान ओवैसी ने कहा कि यदि चुनावों में एमआईएम हार गई तो मैं आपसे कह रहा हूं अल्‍पसंख्‍यक समुदाय के लोगों को बीफ खाना छोड़ना होगा।’ उन्‍होंने महाराष्‍ट्र में बीफ बैन के लिए बीजेपी – शिवसेना सरकार पर हमला बोला और कहा कि सरकार गरीब मुसलमानों और दलितों को निशाना बना रही है।

सांसद ओवैसी ने कहा कि महाराष्‍ट्र में बीफ पर बैन लगा दिया। जबकि मोदी जब से प्रधानमंत्री बने हैं तब से भारत के बीफ एक्‍सपोर्ट में बढ़ोत्‍तरी हुई है। यदि मेरे सूत्र सही हैं तो बीफ एक्‍सपोर्ट 17 प्रतिशत बढ़ा है। इस बारे में पीएम मोदी क्‍या कर रहे हैं। मुंबई में क्‍या हुआ। महाराष्‍ट्र में बीजेपी – शिवसेना सरकार ने बैल को भी नहीं काटने का कानून ला दिया। वहां आप बैल को भी नहीं काट सकते। बीमार हो तो भी काट नहीं सकते।

ओवैसी ने कहा कि याद रखिए कि अख्तियार किसी और के पास गया तो बोलेंगे कि हमारी आस्‍था का मामला है। इन बातों को लेकर गरीबों को पेट पर लात मारना, जो लोग वर्षों से कारोबार कर रहे हें उनको कारोबार से महरूम करना…जैसा मुंबई में किया गया… महाराष्‍ट्र में किया गय वैसा ही यहां किया जाएगा।

ओवैसी बीफ बैन के मुद्दे को लगातार अपनी रैलियों में उठा रहे हैं। इस दौरान वे पीएम नरेंद्र मोदी के लोगों के संबोधित करने के लहजे का भी मज़ाक उड़ाते हैं। वे अपने भाषण की शुरुआत करते हुए कहते हैं कि मित्रों हैदराबाद में मेरा काम नहीं बीफ काम करेगा।