एसओजी फायरिंग मामला: डीएम से मिले एमआईएम नेता

इलाज का खर्च और 50 लाख मुआवज़ा देने की मांग

आज़मगढ़

एसओजी फायरिंग मामला अब तूल पकड़ता जा रहा है। इस मामले को लेकर एमआईएम के प्रतिनिधिमंडल ने आज ज़िलाधिकारी से मुलाकात की। एमआईएम नेताओं ने पूरे मामले से ज़िलाधिकारी अवगत कराया। एमआईएम ने फायरिंग में घायल हुए मुस्लिम नौजवान के इलाज का पूरा खर्च उठाने और मुआवज़े देने की मांग की। पार्टी नेताओं ने कहा कि शासन-प्रशासन ने अगर जल्द ही कोई निर्णय नहीं लिया गया तो पार्टी पूरे प्रदेश में आंदोलन चलाएगी।

ज़िलाधिकारी से मुलाकात के लिए जाते हुए एमआईएम प्रतिनिधिमंडल
ज़िलाधिकारी से मुलाकात के लिए जाते हुए एमआईएम प्रतिनिधिमंडल

एमआईएम का प्रतिनिधिमंडल आज आज़मगढ़ के ज़िलाधिकारी सुहास अलवाई से मिला। प्रतिनिधिमंडल में शामिल लोगों ने ज़िलाधिकारी को बताया कि बेकसूर को कैसे एसओजी टीम ने गोली मारी। प्रतिनिधिमंडल ने ज़िलाधिकारी को एक ज्ञापन दिया। इस ज्ञापन में मांग की गई है कि घायल नौजवान के इलाज का पूरा खर्च सरकार दे। इसके साथ ही तौफीक के परिवार वालों को 50 लाख का मुआवज़ा मिले। ज़िलाधिकारी सुहास अलवाई ने प्रतिनिधिमंडल की बात ध्यानपूर्वक सुनी। उन्होंने कहा कि इलाज के खर्च का वहन सरकार की तरफ से हो इसकी वह पूरी कोशिश करेंगे। इसके साथ ही वह सरकार से मुआवज़ा दिलाने की पूरी कोशिश करेंगे।

डीएम से मुलाकात के तुरंत बाद एमआईएम नेता हामिद संजरी ने पीएनएस न्यूज़ एजेंसी से बात करते हुए कहा कि अगर शासन इलाज के खर्च और मुआवज़े का एलान नहीं करती है, तो एमआईएम इसके खिलाफ आंदोलन चलाएगी। इसकी शुरुआत आज़मगढ़ से होगी और बाद में

पूरे प्रदेश में आंदोलन चलाया जाएगा। ज़िलाधिकारी से मुलाकात करने वालों में हामिद संजरी, कलीम जामई, अबुल कलाम आज़मी, राजेश कुमार एडवोकेट, शेख अंबिया, अबुसाद कुरैशी, एहसान अहमद, रियाज़ बब्लू, वसीम संजरी, शेख मो आसिफ समेत दर्जनों कार्यकर्ता मौजूद थे।

दूसरी तरफ गंभीर रूप से घायल तौफीक का इलाज वाराणसी में चल रहा है। कल रात को हुए आपरेशन के बाद डॉक्टरों ने बताया कि अभी भी हालत गंभीर है। घायल तौफीक का एक पैर भी काम नहीं कर रहा है। दरअसल तौफीक को एक गोली रीढ़ के बगल से निकली है। तौफीक का परिवार इलाज के खर्च को लेकर काफी सशंकित है।

मालूम हो कि कल दिन में एसओजी सुलतानपुर की टीम ने फूलपुर-सरायमीर रोड पर एक बेकसूर मुस्लिम नौजवान पर कई राउंड फायरिंग की थी। इसमें नौजवान तौफीक बुरी तरह से घायल हो गया था। घटना के समय वह अपनी मोटर साइकिल से घर जा रहा था। इस घटना के बाद पूरे क्षेत्र में तनाव हो गया था।