उलेमा कौंसिल से कई पदाधिकारियों का इस्तीफा

कानपुर

राष्ट्रीय उलेमा कौंसिल की प्रदेश और ज़िला इकाई के कई पदाधिकारयों ने पार्टी से इस्तीफा दे दिया है। इस्तीफा देने वालों ने पार्टी नेतृत्व पर उपेक्षा का आरोप लगाया है, साथ ही पार्टी अध्यक्ष पर अपने संगठन को केवल कुछ ही ज़िलों तक सीमित करने का आरोप लगाया है। इनका कहना है कि ऐसे में संगठन में रहने का कोई औचित्य नहीं है।

कानपुर प्रेस क्लब में मीडिया से बात करते हुए पार्टी के प्रदेश सचिव मोहम्मद सलीम कहा कि अध्यक्ष मौलाना आमिर रशादी पार्टी को सिर्फ आज़मगढ़, जौनपुर और आसपास ज़िलों तक ही सीमित रख रहे हैं। मोहम्मद सलीम ने पार्टी नेतृत्व पर अपने स्वार्थ के लिए काम करने का भी आरोप लगाया। प्रदेश के संगठन सचिव सरवर आलम ने पत्रकारों से कहा कि आने वाले समय में सभी लोग एक साथ फैसला करके आगे की रणनीति तय करेंगे। उन्होंने ये भी कहा कि अभी कई और लोग इस्तीफा देंगे।

इस मौके पर प्रदेश सचिव मोहम्मद सलीम, संगठन सचिव सरवर आलम, मोहम्मद आसिफ, शारिक रईस, मोहम्मद फारूक, फखरुद्दीन समेत करीब 50 कार्यकर्ता मौजूद थे।